Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

लौकी खाने से होती हैं ये बीमारियां दूर

लौकी का जूस शरीर में विटमिन बी, विटमिन सी, आयरन और सोडियम की कमी को पूरा करता है।

लौकी खाने से होती हैं ये बीमारियां दूर

बोटल गार्ड के नाम से मशहूर सब्जी को भारत में लौकी, कद्दू और काशीफल के नाम से जाना जाता है। भले ही आपको लौकी का जूस पसंद न हो लेकिन आप इसके फायदे जानकर हैरान हो जाएंगे।

बता दें कि लौकी यह आपके शरीर में विटमिन बी, विटमिन सी, आयरन और सोडियम की कमी को पूरा करता है। इसके अलावा लौकी में कई ऐसे गुण होते हैं जो कुछ गंभीर बीमारियों में औषधि की तरह काम करते हैं।

अगर आप सुबह उठकर एक ग्लास लौकी का जूस पीते हैं तो आप इन बीमारियों से हमेशा दूर रहेंगे।




लौकी का उत्पादन कहां होता है / Where is Bottle Gourd Produced

लौकी का उत्पादन सबसे पहले भारत में शुरु हुआ था, ये भारत की सबसे उपयोगी फसलों में से एक मानी जाती है। लौकी के फल के अलावा इसकी पत्तियों और तना भी उपयोग किया जाता है। भारत के अलावा लौकी का उत्पादन अब श्री लंका, इंडोनेशिया, चीन, साउथ अमेरिका, अफ्रीका के कुछ हिस्से, मलेशिया, फिलीपींस में किया जाता है। भारत के पंजाब में लौकी का सबसे ज्यादा उत्पादन होता है। आमतौर पर लौकी का प्रयोग मोटापा कम करने के लिए किया जाता है।

लौकी के प्रकार / Type Of Bottle Gourd

आमतौर पर लौकी 2 प्रकार की होती है। गोलाकार और बेलनाकार। बेलनाकार घिया का उपयोग दूर के इलाकों में बेचने के लिए किया जाता है। जबकि गोलाकार लौकी का उपयोग स्थानीय क्षेत्रों में किया जाता है।

लौकी के अन्य नाम / Bottle Gourd Different Names

भारत में लौकी को दूधी, घिया के नाम से जाना जाता है। जबकि अन्य देशों में बोतल स्क्वैश, व्हाईट गॉर्ड, ट्रंपेट गॉर्ड और कालबश गॉर्ड कहा जाता है।

लौकी के पौषक तत्व प्रति 100 ग्राम / Nutritious Value Per 100 Gms

Calories

15

Total Fat

0 g 0%

Saturated fat

0 g 0%

Polyunsaturated fat

0 g

Monounsaturated fat

0 g

Cholesterol

0 mg 0%

Sodium 2 mg 0%

2 mg 0%

Potassium

170 mg 4%

Total Carbohydrate

3.7 g 1%

Dietary fiber

1.2 g 4%

Protein

0.6 g 1%

Iron

1%

Calcium

2%

Magnesium

2%

Vitamin C

14%


इसे भी पढ़ें-
इस विधि से घर पर बनाएं चाइनीज मशरूम फ्राइड राइस: रेसिपी

लौकी के फायदे :




लीवर के फंक्शन के लिए फायदेमंद - आयुर्वेद के मुताबिक, लीवर फंक्शन को सुचारु रुप से चलाने और उसकी कार्यक्षमता को बढ़ाने के लिए लौकी का सेवन करना फायदेमंद होता है।

वजन कम होता है- जल्द-से-जल्द वजन कम करना चाहते हैं, लौकी का सेवन बहुत ही बेहतरीन उपाय हैं. क्योंकि इसमें 96% पानी होता है और प्रति 100 ग्राम लौकी में 12 कैलोरी होती है। फाइबर की अच्छी खासी मात्रा होने से जल्द भूख नही लगती है और पेट भरा-भरा सा रहता है।




ब्लड प्रेशर को सामान्य रखने में मदद - लौकी में सोडियम,पोटेशियम के साथ कई ऐसे मिनरल्स पाए जाते हैं। ऐसे में लौकी का सेवन करने से ब्लड प्रेशर को सामान्य रखने में मदद मिलती है, साथ ही दिल की बीमारियों का भी खतरा कम हो जाता है।

पाचन क्रिया को ठीक रखता है- कब्ज जैसी समस्या से जूझ रहे मरीजों के लिए लौकी खाना बहुत ही फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमे मौजूद फाइबर पेट की अंदरूनी सफाई करता है। साथ ही एसिडिटी की प्राब्लम होने पर लौकी का जूस पीना बहुत ही फायदेमंद होता है।




बवासीर में राहत - लौकी में पानी के अलावा फाइबर (घुलनशील और अघुलनशील) दोनों ही रुप में पाया जाता है। जिससे कब्ज, पेट फूलना और बवासीर के रोगों से राहत मिलती है।

टेंशन कम- आजकल की भागदौड़ भरी जिदंगी में काम के टेंशन से बच पाना मुश्किल है। साथ ही खराब खानपान इसे दुगना कर देती है। लौकी में मौजूद पानी की मात्रा बॉडी को रिफ्रेश रखने का काम करती है, जिससे तनाव में राहत मिलती है।



डायबिटीज में लाभ - लौकी में बहुत कम कैलोरी पाई जाती है। इसलिए ये बच्चों, पाचन संबंधी रोगों से पीड़ित लोगों, किसी बीमारी या चोट से ऊबरने वाले लोगों के अलावा शुगर पेशेंट्स के लिए रामबाण साबित होती है।

कई रोगों में लाभदायक- लौकी खाकर शरीर को ठंडा रखा जा सकता है। साथ ही इसका जूस पेशाब करते समय हो रही जलन की समस्या को दूर करता है। जलन का मुख्य कारण पेशाब में एसिड की मात्रा का ज़्यादा होना है। इस समस्या से जल्द छुटकारा पाने के लिए लौकी का जूस या सब्ज़ी खाना बहुत ही लाभकारी होता है।




हाईपरटेंशन से निजात - अगर आप हाईपरटेंशन के शिकार हैं, तो ऐसे में लौकी का सप्ताह में 2-3 बार सेवन करना बेहद फायदेमंद होगा। क्योंकि लौकी में पोटेशियम और सोडियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

लौकी जूस फ्रेश रखता है- खीरे की तरह लौकी में भी पानी की भरपूर मात्रा पाई जाती हैं, जो शरीर में पानी की कमी को दूर करती हैं. सिर्फ़ एक ग्लास लौकी का जूस पीने से सोडियम की कमी, मोटापे की समस्या, सूरज की रोशिनी में प्यास लगने की समस्या दूर हो जाती है। घंटो तक धूप में ट्रेवल करने वालो को लौकी का जूस ज़रूर पीना चाहिए।

स्किन को फायदा- लौकी का जूस पेट की अंदरूनी सफाई करता हैं, जिससे चेहरे पर धूप, धूल और पॉल्यूशन से होने वाले कील-मुहांसे से छुटकारा मिलता है। साथ ही त्वचा खूबसूरत और कोमल बनी रहती है।

आमतौर पर लोग लौकी खाने से बचते हैं। कुछ को इसका स्वाद पसंद नहीं होता है तो कुछ को ये पता ही नहीं होता है कि ये कितनी फायदे की चीज है।

Next Story
hari bhoomi
Share it
Top