Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आयुर्वेद से करें बवासीर का पूरा ईलाज, अपनाएं ये खास उपाय

बवासीर दो तरह की होती है, अंदरूनी और बाहरी। बवासीर को पहचानना बहुत ही आसान है।

आयुर्वेद से करें बवासीर का पूरा ईलाज, अपनाएं ये खास उपाय
X

दोस्तों आज हम आपको हेल्थ से जुड़ी इस बीमारी के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे आज कल के लोग ज्यादा बीमार रहते हैं। बवासीर या हैमरॉइड से अधिकतर लोग पीड़ित रहते हैं। इस बीमारी के होने का प्रमुख कारण अनियमित दिनचर्या और खान-पान है। बवासीर में होने वाला दर्द असहनीय होता है। बवासीर मलाशय के आसपास की नसों की सूजन के कारण विकसित होता है। बवासीर दो तरह की होती है, अंदरूनी और बाहरी। आयुर्वेदिक औषधियों को अपनाकर बवासीर से छुटकारा पाया जा सकता है।

Next Story