Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अप्रैल फूल: हंसने का प्यारा बहाना

फर्स्ट अप्रैल हमें हंसने और हंसाने का पूरा मौका देता है।

अप्रैल फूल: हंसने का प्यारा बहाना
X
फर्स्ट अप्रैल-स्पेशल
फर्स्ट अप्रैल यानी मूर्ख दिवस। एक ऐसा दिन, जो हमें हंसने और हंसाने का पूरा मौका देता है। हंसी अपनी मूर्खता या दूसरों की बेवकूफियों पर। वैसे भी आज की भागती-दौड़ती जिंदगी में हंसी कहीं गायब सी हो गई है। ऐसे में यह दिन, हंसने-मुस्कुराने का एक बहाना बनकर आता है। तो क्यों न हंसी से भरे इस पर्व को पूरी खुशी और उत्साह के साथ मनाएं!
हम सभी की जिंदगी में भागम-भाग लगी ही रहती है। ऐसे में हंसी-खुशी के कुछ पल झोली में आ गिरें तो हम थोड़ा हल्का महसूस करते हैं। अप्रैल फूल यानी, मूर्ख दिवस भी ऐसा ही एक मौका है- मजाक, मस्ती का अवसर। जब बुद्धिमत्ता और समझदारी से थोड़ी दूरी बना लेने में किसी को गुरेज नहीं होता है। रोजमर्रा के थकान भरे शेड्यूल और उबाऊपन से अलग थोड़ी-सी मसखरी और बचपना, जो अपने साथ खुशियों की सौगात ले आता है। हंसने-हंसाने की राह सुझाता है। तो फिर दौड़ाइए अपनी कल्पनाओं के घोड़े और तलाशिए कोई नायाब और प्यारा बहाना हंसने और अपने से जुड़े लोगों को हंसाने का।
बटोर लें खुशियां
अप्रैल का पहला दिन यानी अप्रैल फूल बनाने का दस्तूर वाला यह दिन, एक अघोषित त्योहार सा ही बन गया है, जो खुशियां साथ लाता है। मसखरी भरा ऐसा दिन, जब मूर्ख बनने और बनाए जाने पर भी होंठों पर मुस्कान खिल उठती है। बुद्धू बनकर कोई हैरानी-परेशानी नहीं दिखाई जाती, बल्कि खिलखिलाहट भरी हंसी से माहौल जीवंत हो जाता है। इस दिन ऊट-पटांग ढंग और मजाक का इस्तेमाल कर लोगों को बेवकूफ बनाने का मजाकिया अंदाज देखने को मिलता है।
नीचे की स्लाइड्स में जानिए, अन्य पांच पॉइंट्स के बारे में -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को
फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story