Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गर्मियों में इन तरीकों से रखें घर को सुपर कूल

इस मौसम में घर को भी चाहिए ‘होम सनस्क्रीन’।

गर्मियों में इन तरीकों से रखें घर को सुपर कूल
X

आजकल का मौसम ऐसा है कि घर से बाहर निकलो तो गर्म हवा के थपेड़े, लू और अंदर उमस, घुटन। ऐसे में बस हरेक के मुंह से निकलता है- ‘उफ! ये गर्मी’।

बाहरी तौर पर छतरी, सनस्क्रीन, शेड्स, स्टोल्स आदि आपको सूर्य के प्रकोपों से बचाते हैं, लेकिन अंदर से नहीं। जी मैडम, इस मौसम में घर को भी चाहिए ‘होम सनस्क्रीन’, जो घर का तापमान नॉर्मल रखे। प्रकृति के हर रूप का स्वागत करें।

इसे भी पढ़ें- जिम में कैसे पहनकर जाएं कपड़े, जानें

मौसम जब गर्मी का हो, तो गर्म झोंकों से परहेज क्यों? एक बार स्वागत तो करें। तैयारी तो करें। मौसम के अनुरूप अपने घर के इंटीरियर में बदलाव करने से घर को आकर्षक बनाने के साथ-साथ मौसम का भी भरपूर मजा उठाया जा सकता है।

घर में हो नेचुरल कूलर

माना ऐसी व कूलर गर्मी को रफूचक्कर कर देते हैं, लेकिन आपकी जेब ढीली भी कर देते हैं। ऐसे में इनका साथ महंगा पड़ता है। इसका सस्ता जुगाड़ है घर में बुलाएं प्राकृति को। पेड़-पौधे और हरियाली न केवल धूप को रोकते हैं, बल्कि घर का तापमान भी कम करते हैं।

दीवारों और खिड़कियों पर लटकती बेलें हों या फिर इंडोर प्लांट्स, ये सभी घर को ठंडा रखने में मदद करते हैं। कई पौधे इंटीरियर के लिए अनुकूल होते हैं, क्योंकि उन्हें ज्यादा धूप और हवा की जरूरत नहीं होती। ये सभी नेचुरल कूलर का काम करते हैं।

फेरबदल और हो गया सस्ता जुगाड़

घर को नेचुरल तरीके के अलावा आप फेरबदल करके घर को ठंडा-ठंडा, कूल-कूल रख सकती हैं। जैसे, शाम को पर्दे और खिड़कियां खोल देने चाहिए। इससे प्राकृतिक ठंडी हवा घर में आती है। हां, यह जरूर देख लें कि मच्छरों को रोकने के लिए खिड़कियों पर नेट वगैरह ठीक से लगी है या नहीं।

खिड़कियों पर चिक टांग देने से भी सूरज की सीधी रोशनी कमरों में नहीं आ पाती और वे गर्म होने से बचे रहते हैं। सूरज की सीधी रोशनी झेलने वाली खिड़कियों पर हीट रिफ्लेक्टिंग फिल्म लगवाएं। इससे जहां सूरज की अल्ट्रावॉयलेट किरणों से बचाव होगा, वहीं घर भी ठंडा होगा।

एक्सहॉस्ट फैन का प्रयोग

ह्यूमिडिटी से कमरे गर्म लगते हैं, इसलिए घर के अंदर नमी को कम करें। इसके लिए दोपहर में कपड़े धोने, खाना बनाने और नहाने से बचें। कहने का मतलब यह है कि दोपहर को पानी का इस्तेमाल कम से कम करें। गर्मी में एक्सहॉस्ट फैन का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करें। यह गर्म और नम हवा को बाहर फेंकता है। सबसे अहम इससे बिजली का ज्यादा खपत नहीं होती है।

रंगों से ठंडक

रंगों के मामले में इंटीरियर और एक्सटीरियर एकदूसरे के एकदम विपरीत रखने चाहिए। इस मौसम में इंटीरियर में हल्के रंग सही रहते हैं, तो बाहरी दीवारों को गहरे रंगों से पेंट कराना चाहिए।

ये रंग सूरज से आने वाले रेडियेशन को 80 प्रतिशत तक कम कर देते हैं। खिड़कियों पर शेड्स लगाने से भी तेज धूप अंदर नहीं आ पाती। घर में एअर वेंटिलेशन की भी उचित व्यवस्था होनी चाहिए।

इसके लिए सीधा सा तरीका यह है कि जिस दिशा की ओर हवा बह रही हो, उस तरफ की सबसे निचली खिड़की और विपरीत दिशा की सबसे ऊंची खिड़की खोल दीजिए।

इससे ठंडी हवा अंदर आएगी और गर्मी बाहर निकलेगी। गर्मियों में पीले बल्ब या साधारण ट्यूबलाइट की बजाय सफेद रंग के सीएफएल (कॉम्पैक्ट फ्लोरोसेंट लैंप) का इस्तेमाल करना अच्छा रहता है।

गर्मियों में टेबल लैंप का प्रयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि यह काम करने की जगह को गर्म कर देता है। इसके स्थान पर दीवारों या छत पर लगी लाइट्स का प्रयोग करना

बेहतर रहता है।

अपहोल्स्ट्री में कूल कलर्स

इस मौसम में तकिए, कुशन कवर, बेडशीट्स और चादरें भी सूती और हल्के रंग जैसे सपेहृद, आइवरी, लाइट ब्लू, लाइट क्रीम, पिंक, येलो आदि का प्रयोग करना चाहिए। अगर इस मौसम में दीवारों पर वॉल पेपर या फर्श पर फ्लोरिंग का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो इनमें भी हल्के रंग ही चुनें।

ब्लैक, ब्राउन, रेड जैसे गहरे रंगों से बचना चाहिए। फैब्रिक के रूप में कॉटन के अलावा लिनन या जूट का भी प्रयोग कर सकते हैं। इनसे कमरे हवादार और आरामदायक महसूस होते हैं। हॉट सीजन में सिल्क, सैटिन या सिंथेटिक फैब्रिक का प्रयोग सही नहीं रहता।

इसे भी पढ़ें- गर्मी से राहत पाने के लिए बेडरूम में लगाएं प्लांट्स

खास पैटर्न, खास डिजाइन

गर्मी में प्रयोग के लिए डॉट्स या शेप्स के प्रिंट भी सही रहते हैं। हल्के रंग के कॉटन के पर्दों से आप गर्मी को दूर भगा सकती हैं। ध्यान रखें कि पूरे घर के लिए एक जैसे पर्दे न लें।

जिन खिड़की और दरवाजों पर सीधी धूप पड़ती हो, वहां मोटे कपड़े के पर्दे लगाएं। पर्दों की जिस साइड पर सीधी धूप पड़ती हो, वहां लाइनिंग का इस्तेमाल करें। इससे पर्दों का रंग फीका नहीं पड़ेगा।

ताजगी की बात घर की दीवारों से गहरे रंग की बड़ी पेंटिंग्स को उतार दें। इनके स्थान पर पेड़-पौधों, फूलों या खूबसूरत झरनों वाली तस्वीरें लगाने से काफी अच्छा महसूस होगा।

इसी तरह ताजे पूहृलों का गुलदस्ता भी कमाल कर सकता है। संभव हो, तो रोजाना हर कमरे में ताजे फूलों का एक गुलदस्ता जरूर रखें।

इससे पूरे दिन आपका घर भी महकता रहेगा और मन भी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story