Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चुनाव आयोग की कार्रवाई के बाद मायावती का भाजपा पर तंज, बोलीं- इतिहास का काला दिन

चुनावों के दौरान नेताओं की बदजुबानी पर चुनाव आयोग ने सख्त रुख अख्तियार कर लिया है। मायावती ने कहा कि चुनाव आयोग ने बीजेपी को खुली छूट दे दी है और आयोग भाजपा के दबाव में काम कर रहा है।

चुनाव आयोग की कार्रवाई के बाद मायावती का भाजपा पर तंज, बोलीं- इतिहास का काला दिन
X

नेताओं की बदजुबानी पर चुनाव आयोग ने सख्त रुख अख्तियार कर लिया है। हाल ही में बसपा सुप्रीमों मायावती ने एक चुनावी सभा में आपत्तिजनक भाषण दिया था। जिस पर चुनाव आयोग कार्रवाई करते हुए 48 घंटे तक चुनाव प्रचार न करने का आदेश जारी कर दिया है।

चुनाव आयोग की इस कार्रवाई पर मायावती प्रेस कांफ्रेंस कर आयोग के इस फैसले को असंवैधानिक व क्रूर बताया। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग बीजेपी को खुली छूट दे दी है और चुनाव आयोग भाजपा के दबाव में कार कर रही है।

बता दें कि मायावती और अखिलेश पिछले सप्ताह देवबंद में एक संयुक्त चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान मायावती ने मुस्लिमों से कहा था कि वे अपना वोट बंटने न दें।

चुनाव आयोग के अनुसार यह बयान आचार संहिता का उल्लंघन है। आयोग मायावती पर कार्रवाई करते हुए सोमवार को 48 घंटे के चुनाव प्रचार पर रोक लगा दिया। आयोग का यह फैसला 16 अप्रैल यानि की आज से लागू होगा।

मायावती इस दौरान रैली, इंटरव्यू, जुलूस, रोड शो, प्रेस कांफ्रेंस नहीं कर सकेंगी। फैसले से नाराज मायावती ने चुनाव आयोग व बीजेपी दोनों पर निशाना साधा है।

लखनऊ में मायावती पार्टी कार्यालय पर मीडिया से बात करते हुए कहा कि चुनाव आयोग यह फैसला भाजपा के दबाव में आकर लिया है ताकि हम भाजपा के खिलाफ आवाज बुलंद न कर सकें और भाजपा फिर से सत्ता में वापसी कर ले। माया ने कहा कि भाजपा पहले चरण के मतदान के बाद से ही डरी हुई है।

इस दौरान सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भी ट्वीट कर पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि वे अपने चुनाव प्रचार में पुलवामा हमले का जिक्र करते हैं।

मायावती ने सफाई देते हुए कहा कि नोटिस में कोई आरोप नहीं था कि मैंने कोई आपत्तिजनक व भड़काऊ बयान दिया है, जिससे दो समुदायों में टकराव बढ़े।

नोटिस में केवल विशेष समुदाय से वोट मांगने का आरोप है। लेकिन भाषण में कहीं भी जाति,धर्म का जिक्र नहीं है। मायावती ने कहा 15 अप्रैल का दिन चुनाव आयोग के इतिहास में काले दिन के रुप में याद किया जाएगा।

मायावती ने कहा कि मैं अगले ही दिन आगरा में एक रैली को संबोधित करने वाली थी। इसी वजह से चुनाव आयोग ने यह बैन लगाया है ताकि मेरी आवाज आगरा के लोगों तक न पहुंच सके।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story