Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Hathras Kand : बेटी से छेड़छाड़ के बाद पिता को गोलियों से भूना, गलत काम के लिए बना रहा थे दबाव

पुलिस ने मुख्य आरोपी गौरव शर्मा को भी गिरफ्तार कर लिया है। मामले में अब तक तीन गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। सीएम योगी ने सभी आरोपियों पर एनएसए लगाने के निर्देश दिए हैं। कुल छह आरोपी हैं, जिनमें से तीन की गिरफ्तारी बाकी है। पुलिस उनकी तलाश में ताबड़तोड़ छापामारी कर रही है। अब तक क्या कुछ हुआ, इस रिपोर्ट में पढ़िये...

Hathras Kand : बेटी से छेड़छाड़ के बाद पिता को गोलियों से भूना, गलत काम के लिए बना रहा थे दबाव
X
हाथरस कांड का आरोपी। 

उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में बेटी के साथ छेड़खानी का मुकद्दमा वापस न लेने पर उसके पिता की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई। मामला सामने आते ही पुलिस से लेकर प्रदेश सरकार तक हड़कंप मच गया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने जहां सभी आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए) लगाने के निर्देश दे दिए, वहीं विपक्ष ने योगी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। भारी दबाव के चलते पुलिस ने दो आरोपियों को सुबह और शाम होने से पहले मुख्य आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया। अभी भी तीन आरोपियों की गिरफ्तारी बाकी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 52 वर्षीय किसान अमरीष शर्मा ने 16 जुलाई 2018 को आरोपी गौरव के खिलाफ घर में घुसकर छेड़खानी करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया था। आरोपी इस केस में जेल जा चुका है और अभी जमानत पर बाहर चल रहा था। आरोप है कि गौरव के साथ उसका परिवार भी इस केस को लेकर पीड़ित पक्ष से रंजिश पाले था।

सोमवार को आरोपी गौरव की पत्नी और चाची गांव के मंदिर में पूजा करने के लिए गई थी, जहां उनकी पीड़िता और उसकी बहन से पुराने केस को लेकर बहस हो गई। कुछ समय बाद आरोपी गौरव शर्मा और पीड़िता के पिता अमरीष शर्मा भी इस झगड़े में शामिल हो गए। आरोपी पक्ष केस वापस लेने का दबाव बना रहा था, जिसे मानने से पीड़ित पक्ष ने मना कर दिया।

सोमवार की दोपहर करीब 4 बजे अमरीष अपने खेतों पर आलू की खुदाई करा रहे थे। उसी दौरान आरोपी गौरव अपने साथियों के साथ वहां आया और अमरीष शर्मा को निशाना बनाते हुए ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। इस फायरिंग में अमरीष के साथ एक आरोपी भी घायल हो गया। आरोपियों ने अपने घायल साथी को गाड़ी में डाला और फरार हो गए। वहीं अमरीष को परिजनों ने आनन फानन में जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। अमरीष के शव का दोपहर बाद अंतिम संस्कार किया गया।

पुलिस ने इस मामले में आरोपी गौरव के साथ रोहतास शर्मा, निखिल शर्मा, ललित शर्मा व दो अन्य को नामजद किया है। पुलिस ने ललित शर्मा पुत्र सन्तोष शर्मा समेत दो आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार कर लिया, जबकि तीसरा आरोपी गौरव शर्मा भी अब गिरफ्त में आ चुका है। अब मामले में तीन आरोपी फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश में भी लगातार छापामारी कर रही है।

Next Story