Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Farmers Bharat Bandh Updates: किसान के 'भारत बंद' से पहले दिल्ली पुलिस ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को घर में किया हाउस अरेस्ट

आप के प्रवक्ता ने केंद्र पर निशाना साधते हुये कहा कि सरकार ने सोचा था कि लाखों किसानों को दिल्ली के स्टेडियमों में जेल बनाकर कैद कर लिया जाएगा। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह करने से मना कर दिया। केंद्र के दवाब के बावजूद दिल्ली सरकार ने इसकी इजाजत नहीं दी।

Farmers Bharat Bandh Updates: किसान के
X

किसान के 'भारत बंद' से पहले दिल्ली पुलिस ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को घर में किया हाउस अरेस्ट 

आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि किसानों का आंदोलन जब से दिल्ली की सीमा तक पहुंचा है और पांचवे दौर की बातचीत से भी हल न निकल पाने के कारण केंद्र अब बैकफुट पर आती दिखाई दे रही है। आप के प्रवक्ता ने केंद्र पर निशाना साधते हुये कहा कि सरकार ने सोचा था कि लाखों किसानों को दिल्ली के स्टेडियमों में जेल बनाकर कैद कर लिया जाएगा। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह करने से मना कर दिया। केंद्र के दवाब के बावजूद दिल्ली सरकार ने इसकी इजाजत नहीं दी। केजरीवाल सरकार का मानना है कि किसान पिछले 6 महीने से अपने-अपने राज्यों में सड़क पर आंदोलन कर रहे हैं। केंद्र ने इनकी बात नहीं सुनी। इसलिए आज इनको दिल्ली के तरफ आना पड़ा है ताकि केंद्र इनकी बातों को सुने।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल कल अपने पूरे मंत्रिमंडल के साथ किसानों से मिलने दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर पहुंचे। सीएम ने किसानों से कहा कि मैं आपके सेवादार की तरह पूरी सरकार के साथ आपकी सेवा करूंगा। आपकी सहूलियतों की चिंता इस सरकार को है। जब से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सिंघु बॉर्डर पर किसानों से मिल कर और समर्थन देकर आए हैं तभी से केंद्र सरकार घमंड के कारण तनाव में है। केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय के इशारे पर दिल्ली पुलिस ने दिल्ली के चुने हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को अपने ही घर में चारों तरफ से बेरीकेट लगाकर नजरबंद कर हाउस अरेस्ट किया हुआ है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से अब ना कोई मिल सकता है और ना वो बाहर आ सकते हैं।

आम आदमी पार्टी के विधायक और मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि हमारे विधायकों की कल बैठक थी। जब वे मुख्यमंत्री से मिलने गए तो दिल्ली पुलिस ने हमारे विधायकों को पीटा। विधायकों को उठाकर सड़क पर फेंका गया। मुख्यमंत्री से जो कार्यकर्ता मिलने गए, उनको भी नहीं मिलने दिया गया। मुख्यमंत्री के दरवाजे पर भाजपा के नेताओं को बैठाकर उनकी आवभगत की की जा रही है। चारों तरफ से बैरिकेटिग कर दी गई है जिसके कारण कोई नहीं जा सकता है। यहां तक कि मेड भी मुख्यमंत्री के घर में नहीं जा पा रही है। केंद्र सरकार को यह डर सता रहा है कि भारत बंद में आज अगर दिल्ली का चुना हुआ मुख्यमंत्री किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा हो गया तो केंद्र सरकार का झूठ का पर्दाफाश हो जाएगा कि सब कुछ सही है और ठीक चल रहा है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस के लोगों से जब बात की गई तो प्राइवेट में अपना नाम ना बताने की शर्त पर कह रहे हैं कि पुलिस कमिश्नर से भी आप बात करेंगे तो भी कोई फायदा नहीं है। दिल्ली पुलिस के कमिश्नर को कल तुंरत बताया गया कि दिल्ली पुलिस के लोगों ने चारों तरफ से मुख्यमंत्री के घर को घेका हुआ है। दिल्ली पुलिस के कमिश्नर ने उसके ऊपर कार्यवाही नहीं करने को लेकर अपनी असमर्थता जाहिर कर दी। दिल्ली पुलिस के अधिकारी बता रहे हैं एमएचए से सीधे आदेश आए हुए हैं कि जब तक किसानों का प्रदर्शन चल रहा है अरविंद केजरीवाल को इसके घर में ही रखो। ऐसे में आज हमारे सारे साथी आईटीओ के ऑफिस में इकट्ठा हुए हैं। हम सब लोग यहां से अरविंद केजरीवाल जी के घर की तरफ जाएंगे। दिल्ली पुलिस अगर रोकेगी तो हमारा कोई भीसाथी पुलिस के साथ हिंसा की बात भी नहीं करेगा और न ही कोई अपशब्द कहेगा। मगर हम सब लोग मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पर जाकर मुख्यमंत्री जी को वहां से निकालेंगे। किसानों के प्रदर्शन के साथ हम अरविंद केजरीवाल को खड़े होना देखना चाहते हैं। आप सब साथियों से यह निवेदन करूंगा कि आप भी हमारे साथ चलिए और केंद्र सरकार का और दिल्ली पुलिस का घिनौना चेहरा देखिए।

Next Story