Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Metro Facts: कभी सोचा है मेट्रो के सबसे लंबे रूट के बारे में जिस पर 38 स्टेशनों से होकर गुजरते हैं आप

Delhi Metro Facts: पूरी दिल्ली को जोड़ती मेट्रो रेल (Metro Rail) आज देश की राजधानी के ट्रांसपोर्ट की दिल की धड़कन है। रोजाना लाखों लोगों को उनकी मंजिल तक पहुंचाती दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) भागदोड़ भरी जिंदगी को भी सरल बनाती है। दिल्ली मेट्रो फैक्ट्स की इस सीरीज में आज हम आपको इसके सबसे लंबे रूट (Delhi Metro Longest Route) के बारे में विस्तृत जानकारी देंगे।

Delhi Metro Facts: कभी सोचा है मेट्रो के सबसे लंबे रूट के बारे में जिस पर 38 स्टेशनों से होकर गुजरते हैं आप
X

Delhi Metro Facts: पूरी दिल्ली को जोड़ती मेट्रो रेल (Metro Rail) आज देश की राजधानी के ट्रांसपोर्ट की दिल की धड़कन है। रोजाना लाखों लोगों को उनकी मंजिल तक पहुंचाती दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) हमारी भागदोड़ भरी जिंदगी को भी सरल बनाती है। शाहदरा से तीस हजारी तक की शुरुआत के साथ मेट्रो आज दिल्ली के हर कोने को जोड़ती है। दिल्ली मेट्रो फैक्ट्स की इस सीरीज में आज हम आपको इसके सबसे लंबे रूट (Delhi Metro Longest Route) के बारे में विस्तृत जानकारी देंगे।


कहां से कहां तक गुजरता है दिल्ली मेट्रो का सबसे लंबा रूट

10 कलर की लाइन के साथ 254 स्टेशन को जोड़ती दिल्ली मेट्रो आज देश की सबसे व्यस्त मेट्रो है। लेकिन क्या आपको पता है कि इन सारे रूट में से सबसे ज्यादा लंबा रूट कौन सा है और उस पर कितने मेट्रो स्टेशन पड़ते हैं। गौरतलब है कि दिल्ली मेट्रो का सबसे लंबा रूट पिंक लाइन मेट्रो (Pink Line Metro) का है। पिंक लाइन मेट्रो 58.43 किलोमीटर की दूरी को तय करते हुए 38 मेट्रो स्टेशन के बीच से गुजरती है। मजलिस पार्क से शिव विहार तक जाने वाली दिल्ली मेट्रो की पिंक लाइन को रिंग रोड लाइन (Ring Road Line) भी कहते हैं। ये पिंक लाइन दिल्ली के व्यस्त रिंग रोड से गुजरती है, जहां लगभग हर रोज बड़े पैमाने पर ट्रैफिक जाम लगता है।

लगभग हर लाइन को जोड़ता ये रूट

पिंक लाइन, दिल्ली मेट्रो की लगभग हर लाइन से जुड़ी हुई है, जैसे नेताजी सुभाष प्लेस और वेलकम में रेड लाइन, आजादपुर और आईएनए में येलो लाइन, पंजाबी बाग पश्चिम में ग्रीन लाइन, ब्लू लाइन पर राजौरी गार्डन, मयूर विहार फेज- I, आनंद विहार और कड़कड़डूमा, दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो एक्सप्रेस (ऑरेंज लाइन) के धौला कुआं दुर्गाबाई देशमुख साउथ कैंपस में, वायलेट लाइन पर लाजपत नगर को जोड़ती है। इसके साथ ही ये भारतीय रेलवे के हजरत निजामुद्दीन और आनंद विहार टर्मिनल को भी जोड़ती है।


कब से हुर्ई थी शुरुआत

इस लाइन को मौजपुर-बाबरपुर तक एक्सटेंड किया जाएगा, जिससे शहर में दुनिया की सबसे लंबी रिंग लाइन बन जाएगी। मौजपुर-बाबरपुर से शिव विहार सेक्शन तब एक ब्रांच लाइन के रूप में कार्य करेगी। 58 किलोमीटर में फैली पिंक लाइन 38 स्टेशन के बीच से गुजरती है। जिसमें 26 एलिवेटेड और 12 अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशन शामिल हैं। इस लाइन की शुरुआत साल 2018 के मार्च से अगस्त 2021 तक पांच चरणों में हुई थी। पिंक लाइन पर पहला सेक्शन 14 मार्च 2018 से मजलिस पार्क से दुर्गाबाई देशमुख साउथ कैंपस के बीच शुरु किया गया था, इसके बाद 6 अगस्त 2018 को दुर्गाबाई देशमुख साउथ कैंपस और लाजपत नगर के बीच दूसरा सेक्शन खोला गया। फिर शिव विहार से त्रिलोकपुरी सेक्शन को 31 अक्टूबर 2018 को खोला गया, और लाजपत नगर से मयूर विहार पॉकेट I के बीच का सेक्शन 31 दिसंबर 2018 को खोला गया।

अभी तक त्रिलोकपुरी संजय झील और मयूर विहार पॉकेट I के बीच का सेक्शन पूरा नहीं हुआ था क्योंकि त्रिलोकपुरी में भूमि अधिग्रहण के मामले के कारण 1.5 किमी वायडक्ट का निर्माण देर से शुरू हुआ। इसने पिंक लाइन को दो इंडिपेंडेट लाइन्स में बदल दिया। इसलिए, मजलिस पार्क से ट्रेनें मयूर विहार पॉकेट 1 तक चलती थी, जबकि शिव विहार से आने वाली ट्रेनें आईपी एक्सटेंशन या त्रिलोकपुरी संजय झील पर समाप्त होती। त्रिलोकपुरी संजय झील और मयूर विहार पॉकेट I के बीच लास्ट सेक्शन 6 अगस्त 2021 को खोला गया।

Next Story