Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीता : तुम्हारा बेटा तो अंगूठा चूसता था ना ?

सीता : तुम्हारा बेटा तो अंगूठा चूसता था ना ?

सीता : तुम्हारा बेटा तो अंगूठा चूसता था ना ?

सीता : तुम्हारा बेटा तो अंगूठा चूसता था ना ?

उसने अब छोड़ा कैसे ?

.

.

.

गीता : मैंने दिमाग लगाया और उसे ढीली पैंट पहनाना शुरू

कर दिया। अब वह पूरे दिन उसे ही पकड़े रहता है।

Next Story
Top