Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

वाईफ: अपने पुराने कपड़े डोनेट करूं क्या

वाईफ: अपने पुराने कपड़े डोनेट करूं क्या

वाईफ: अपने पुराने कपड़े डोनेट करूं क्या

वाईफ: अपने पुराने कपड़े डोनेट करूं क्या?

हसबैंड: डोनेट क्या करना, फेंक दे...

वाईफ: नहीं जी, दुनिया में बहुत सी गरीब, भूखी प्यासी औरते हैं, कोई भी पहन लेगी।

हसबैंड: तेरे नाप के कपड़े जिसको आएंगे वो भूखी प्यासी थोड़ी ही होगी...

Next Story
Top