Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चंद्र ग्रहण के बाद सूर्य बदलेंगे अपनी चाल, मिथुन से कर्क राशि में गोचर, इन राशि जातकों पर पड़ेगा बुरा असर

सूर्य का मिथुन से कर्क राशि में गोचर में कल यानी 17 जुलाई 2019 के दिन होने जा रहा है। लेकिन आज 16 जुलाई 2019 1 बजकर 30 मिनट से चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है। जो अगले दिन यानी 17 जुलाई 2019 सुबह 4 बजकर 30 मिनट तक रहेगा। सूर्य का यह गोचर 12 राशियों पर क्या असर डालेगा आइए जानते हैं।

चंद्र ग्रहण के बाद सूर्य बदलेंगे अपनी चाल, मिथुन से कर्क राशि में गोचर, इन राशि जातकों पर पड़ेगा बुरा असरSun Transit In Cancer From 17 July 2019 To 17 August 2019 Effects On Zodiac Sign

सूर्य ग्रह का मिथुन राशि से कर्क राशि में गोचर 17 जुलाई 2019 बुधवार के दिन सुबह 4 बजकर 23 मिनट पर हो रहा है। इससे पहले 2019 का चंद्र ग्रहण 16 और 17 जुलाई की मध्य रात्रि 1:30 बजे से 4:30 बजे तक रहेगा। सूर्य इस राशि से अगली राशि में गोचर यानी सिंह राशि में गोचर 17 अगस्त 2019 के दिन करेंगे। सूर्य के गोचर को संक्रांति भी कहा जाता है। इस बार सूर्य के राशि परिवर्तन से जो संक्रांति पड़ रही है। वह कर्क संक्रांति कहलाएगी। सुर्य का कर्क राशि में गोचर करने पर 12 राशियों पर क्या प्रभाव पड़ने वाला है आइए जानते हैं...


मेष राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर मेष राशि वाले जातकों के लिए चौथे भाव होने जा रहा है। चौथे भाव को सुख और माता का भाव भी कहा जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन आपके सुख और आपकी माता को प्रभावित करेगा। सूर्य का परिवर्तन आपके परिवार में तनाव दे सकता है। जिसकी वजह से आपको मानसिक परेशानियों का समाना करना पड़ सकता है। अगर आप नौकरी करते हैं तो इस समय आपको नौकरी में लाभ मिल सकता है। सरकारी कर्मचारियों को इस समय विशेष लाभ हो सकता है। इस समय में आपका वैवाहिक जीवन भी पूरी तरह से अच्छा रहेगा। इस समय में आपका जीवनसाथी आपकी सभी बातों को मानेगा और आपको भी इस समय में अपने जीवनसाथी का पूरा साथ देना चाहिए।।स्वास्थय की बात करें तो इस समय में आपके स्वास्थय में गिरावट हो सकती है। इसलिए किसी भी प्रकार का तनाव न लें।


वृष राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर वृष राशि वाले जातको के लिए तीसरे भाव में होने जा रहा है। तीसरे भाव से पराक्रम और छोटे भाई -बहनों का विचार किया जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन आपके पराक्रम और छोटे-भाईनों क प्रभावित करेगा। सूर्य का परिवर्तन आपके अंदर एक नई ऊर्जा का संचार करेगा। जिसकी वजह से आप अपने कार्यों को करने में सफल होंगे। इस समय में आपकी छोटी-मोटी यात्राएं भी हो सकती है। भाई -बहनों के साथ किसी प्रकार का मतभेद हो सकता है। जीवनसाथी के बात करें तो इस समय में आपके जीवनसाथी को किसी प्रकार का लाभ हो सकता है। समाज में आपको मान- सम्मान की प्राप्ति भी हो सकती है। आपको इस समय अपने माता पिता की सेहत का ख्याल भी रखना होगा। इस समय में अपने माता पिता से तर्क - वितर्क न करें।


मिथुन राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर मिथुन राशि वाले जातकों के लिए दूसरे भाव में होने जा रहा है। दूसरे भाव से धन और परिवार का विचार किया जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन आपके धन और परिवार को प्रभावित करेगा।सूर्य का परिवर्तन आपकी वाणी को कठोर बना सकता है। आपकी कठोर वाणी से इस समय आपके अपने कुछ लोगों को परेशानी उत्पन्न हो सकती है। परिवार में भी आपकी वाणी की वजह से तनाव उत्पन्न हो सकता है। इस समय में आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा अगर आपका कोई सरकारी काम रुका हुआ है तो वह इस समय में पूरा हो जाएगा। आपका जीवनसाथी इस समय में आपकी स्थिति को भली भांति समझने में सक्षम होगा। इस समय में आपकी आखों में किसी प्रकार की समस्या उत्पन्न हो सकती है। इसलिए इस समय में आखों का विशेष ध्यान रखें।


कर्क राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर कर्क राशि वाले जातकों के लिए लग्न भाव में होने जा रहा है। लग्न भाव से शरीर का विचार किया जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन आपके शरीर को प्रभावित करेगा। सूर्य का परिवर्तन आपके अंदर अहम को बढ़ा सकता है। आपके अंदर इस समय में अहंकार की भावना जागेगी। जिसकी वजह से आपके परिवार में भी आपकी लड़ाई हो सकती है। इस समय में आपकी और आपके जीवनसाथी की भी लड़ाई हो सकती है। जीवनसाथी की बातों को नजरअंदाज बिल्कुल भी न करें। इसलिए विशेष सावधानी बरतें। इस राशि के छात्र बेहतर प्रदर्शन करेंगे। नौकरी से जुड़े लोगों को इस समय में परेशानियों को सामना करना पड़ सकता है। स्वास्थय की बात करें तो इस समय में आपको ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। जिससे आपको एलर्जी हो।


सिंह राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर सिंह राशि वाले जातकों के लिए बारहवें भाव में होने जा रहा है। बारहंवे भाव को व्यय भाव भी कहा जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन इस समय में आपके खर्चों को प्रभावित करेगा। सूर्य का परिवर्तन आपकी सेहत को कमजोर कर सकता है। इस समय में आपको नियमित रुप से व्यायाम और योगा करना चाहिए। धन के मामलों मे आपको बहुत ही ज्यादा संभलकर चलने की आवश्यकता है। इस समय में आपको किसी को भी उधार देने से बचना चाहिए। अगर आप इस समय में किसी को भी उधार देते हैं तो आपको आपका वह पैसा मिलने में कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। अगर आप विदेश जाना चाहते हैं तो यह समय आपके लिए काफी उपयुक्त है। इस समय में आप विदेश जा सकते हैं। आपके अनावश्यक खर्चे इस समय में आपको परेशान कर सकते हैं।


कन्या राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर सिंह राशि वाले जातकों के लिए ग्यारहवें भाव में होने जा रहा है। ग्यारहवें भाव को आय भाव भी कहा जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन इस समय में आर्थिक लाभों को बढ़ा सकता है। अगर आप नौकरी करते हैं तो इस समय में आपके उच्च अधिकारी आपके काम से काफी खुश होंगे। व्यापार करने वाले लोगों को भी इस समय में लाभ हो सकता है। अगर आप विदेश में जाकर व्यापार करना चाहते हैं तो आप इस समय में विदेश जाकर व्यापार कर सकते हैं। इस समय में आपका अंहकार भी बढ़ सकता है। इसलिए किसी भी प्रकार का अंहकार न करें नहीं तो आपके परिवार में आपकी लड़ाई हो सकती है। वहीं दूसरी और अगर आप किसी से प्रेम करते हैं तो भी आपके रिश्तों में कड़वाहट आ सकती है। वैसे इस समय में आपके शत्रु आपके सामने आने का प्रयास नहीं करेंगे।


तुला राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर तुला राशि वाले जातकों के लिए दसवें भाव में होने जा रहा है। दसवें भाव को कर्म भाव भी कहा जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन कार्यस्थल में आपको तरक्की दिला सकता है। सूर्य का परिवर्तन इस समय में आपको सरकारी कामों से लाभ प्राप्त होगा। इस राशि के नौकरी करने वाले जातकों के सीनियर्स उनसे अधिक प्रसन्न रहेंगे। जिसकी वजह से आपको नौकरी में प्रमोशन भी मिल सकता है। तुला राशि के जातकों को इस समय में पारिवार में थोड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। किसी बात को लेकर आपका अपने भाई - बहनों के साथ झगड़ा हो सकता है। आपके ससुराल में इस समय आपकी सास बीमार हो सकती है। जिसकी वजह से आपके जीवनसाथी को भी दुख की स्थिति का सामना करना पड़ेगा। इस समय में आपको अपने जीवनसाथी का पूरा ख्याल रखना चाहिए।


वृश्चिक राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर वृश्चिक राशि वाले जातकों के लिए नवें भाव में होने जा रहा है। नवें भाव को भाग्य और धर्म का भाव भी कहा जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन इस समय में आपके भाग्य को प्रभावित कर सकता है। सूर्य का परिवर्तन इस समय में आपको मानसिक शांति की अनूभूति करा सकता है। इस समय में आपका मन धार्मिक कामों में अधिक लगने लगेगा। वृश्चिक राशि के जातकों का इस समय में मान- सम्मान बढ़ सकता है। इस समय में आपकी वाणी में एक अलग ही मिठास आएगी। जिसकी वजह से लोग आपकी और खींचे चले आएंगे। अगर आप इस समय में कहीं घूमने जाना चाहते हैं तो आप जा सकते हैं। यदि आप अपनी नौकरी में परिवर्तन करना चाहते हैं तो यह समय आपके लिए काफी उपयुक्त है। सूर्य के इस परिवर्तन से आप दान- पुण्य में भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे।


धनु राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर धनु राशि वाले जातकों के लिए आठवें भाव में होने जा रहा है। आठवें भाव को मृत्यु का भाव भी कहा जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन आपके मृत्यु भाव को प्रभावित करेगा। सूर्य का परिवर्तन आपके आर्थिक पक्ष को कमजोर कर सकता है। इस समय में आपको धन से जुड़े मामलों में सोच समझकर फैसला लेना चाहिए। स्वास्थय को लेकर भी इस समय आपको परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। इस समय में आपका अपने पिता के साथ झगड़ा हो सकता है। इसलिए सावधानी बरतें । क्योंकि इस समय में आपके पिता की सेहत भी खराब हो सकती है। धनु राशि के छात्रों की सेहत भी इस समय में खराब हो सकती है। जिसकी वजह से इस राशि के लोग पढ़ाई में एकाग्र नही हो पाएंगे। सूर्य का यह परिवर्तन आपकी सेहत को विशेष रुप से प्रभावित करेगा।


मकर राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर मकर राशि वाले जातकों के लिए सातवें भाव में होने जा रहा है। सातवें भाव को जीवनसाथी और पार्टनरशिप का भाव भी कहा जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन आपके वैवाहिक जीवन को प्रभावित करेगा। सूर्य का परिवर्तन आपके और आपके जीवनसाथी के बीच मे मतभेद की स्थिति उत्पन्न कर देगा। इस समय में आपके जीवनसाथी के अंदर अहम की भावना जाग्रत होगी और आपके अंदर क्रोध की अधिकता होगी। जो आप दोनों के बीच मे तनाव का कारण बनेगा। लेकिन यदि आप साझेदारी में कारोबार करते हैं तो आपके और बिजनेस पार्टनर के बीच में रिश्ते सुधरेंगे। मकर राशि के छात्रों के लिए यह समय काफी शुभ परिणाम लेकर आ रहा है। इस समय में इन लोगो का मन अपनी पढ़ाई के प्रति एकाग्र होगा। सेहत को लेकर इस समय में आपको विशेष सावधानी बरतने की जरुरत है।


कुंभ राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर कुंभ राशि वाले जातकों के लिए छठवें भाव में होने जा रहा है। छठे भाव को शत्रु और रोग भाव भी कहा जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन इस समय में आपके रोगों को बढ़ा सकता है। सूर्य का परिवर्तन आपके कोर्ट - कचहरी के मामलों में आपको विजय दिलाएगा। इस समय में आपके शत्रु आपके सामने आने की भी हिम्मत नही करेंगे। अगर आपने इस समय में कोई प्रतियोगी परीक्षा दी है इस समय में आपको पूरी तरह से सफलता मिल सकती है।नौकरी करने वाले लोगों को इस समय में लाभ हो सकता है। लेकिन व्यापार करने वाले लोगों को हानि हो सकती है। वैवाहिक जीवन की बात करें तो इस समय में आपका आपने जीवनसाथी के साथ लगाव और भी अधिक गहरा होगा। लेकिन इस समय में आपके जीवनसाथी का स्वास्थय खराब हो सकता है।


मीन राशि पर सूर्य का प्रभाव

सूर्य का गोचर कुंभ राशि वाले जातकों के लिए पांचवें भाव में होने जा रहा है। पांचवें भाव को प्रेम और संतान का भाव भी कहा जाता है। सूर्य का राशि परिवर्तन इस समय में आपकी संतान को प्रभावित कर सकता है। सूर्य का परिवर्तन आपकी संतान को तरक्की दिला सकता है। इस समय में आपको अपने कार्यस्थल पर कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आपको इस समय में अपने आपको शांत रखने का प्रयास करना चाहिए। अगर आप क्रोध करेंगे तो आप और आपके प्रेमी के बीच में झगड़ा हो सकता है। इस समय में आपको अपने प्रेम संबंधों को लेकर सर्तकता बरतनी चाहिए। अगर आप राजनिति में है तो इस समय में आपको लाभ होने की संभावना है। मीन राशि के छात्रों का मन इस समय में पढ़ाई में नही लगेगा।

Next Story
Top