Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Shravani Mela 2019 : बरसते सावन में झूमते कांवरिया- बोलबम के उद्घोष से गूंजा देवघर

सावन के पहले दिन यानी बुधवार को करीब डेढ़ लाख कांवरियों का जत्था बाबा धाम देवघर के लिए रवाना हुए। झारखंड-बिहार के अलावा यूपी, उत्तराखंड, दिल्ली, छत्तीशगढ़, पंजाब, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, असम, दिल्ली और हरियाणा के शिवभक्तों ने गंगाजल उठाया। कांवरियों के अनुसार बाबा धाम में इस बार काफी व्यवस्था दुरूस्त की गई है। हालांकि कुछ समस्याएं भी देखने को मिली हैं, कांवरियों के अनुसार छोटे घाटों पर फिसलन की समस्या ज्यादा है।

Shravani Mela 2019 : बरसते सावन में झूमते कांवरिया- बोलबम के उद्घोष से गूंजा देवघर, लाखों श्रद्धालुओं ने किया जलाभिषेकShravani Mela 2019 Deoghar Sawan 2019 Kanwar Yatra 2019 Bol Bam Jharkhand

सावन के पहले दिन यानी बुधवार को करीब डेढ़ लाख कांवरियों का जत्था बाबा धाम देवघर के लिए रवाना हुए। झारखंड-बिहार के अलावा यूपी, उत्तराखंड, दिल्ली, छत्तीशगढ़, पंजाब, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, असम, दिल्ली और हरियाणा के शिवभक्तों ने गंगाजल उठाया। कांवरियों के अनुसार बाबा धाम में इस बार काफी व्यवस्था दुरूस्त की गई है। हालांकि कुछ समस्याएं भी देखने को मिली हैं, कांवरियों के अनुसार छोटे घाटों पर फिसलन की समस्या ज्यादा है।


वहीं प्रशासन का कहना है कि भीड़ इतना ज्यादा है कि यह समस्या उत्पन्न हो गई है। हालांकि जल्द ही इसका सामाधान निकाला जाएगा। जो भी हो लेकिन कांवरियों की श्रद्धा के आगे सारी समस्याएं छोटी पड़ जा रही हैं। बोलबम के उद्घोष से बाबा नगरी देवघर का वातावरण एकदम शिवमय हो गया है। मेला प्रशासन के अनुसार 33 हजार पुरूष व 22 हजार महिलाओं के अलावा 250 डाक बम के कांवरियां बाबा धाम में जलाभिषेक किए।


भगवा चोला पहने, कंधों पर कांवर लिए, बोल बम का नारा लगाते देवघर का चप्पा चप्पा शिव की भक्ति में डूब गया है। नंगे पांव लाखों की संख्या में लोग बाबा के धाम पहुंच रहे हैं। क्या दिन क्या रात, क्या महिला क्या पुरूष इसका कोई अंतर ही नहीं रहा, देवघर में। बस शिव के नारों की गूंज ही सुनाई दे रही है, भक्ति में डूबा देवघर में कुछ सुविधाएं नदारद रहीं।


महिला कांवरियों का कहना है कि महिला यूरिनल और शौचालय की व्यवस्था सरकार ने नहीं किया है जिससे काफी दिक्कत हो रही है। वहीं प्रशासन का कहना है कि कांवरियों के भीड़ के आगे सारी व्यवस्थाएं अपर्याप्त नजर आ रही हैं। वही सीएम रघुवर दास ने श्रद्धालुओं को ट्विटर के जरिए कहा है कि मेले में अगर किसी भी प्रकार के परेशानियों से सामना करना पड़ रहा है तो सीधे आप मुझसे मेरे ट्विटर हैंडल @dasraghubar के जरिए संपर्क कर सकते हैं।

सीएम रघुवर दास ने कहा कि देवघर का विश्व विख्यात मेला अंतर्राष्ट्रीय स्तर तक जाना जाता है। इस मेले की ब्रांडिंग करके झारखंड में पर्यटन को बढ़ावा देने की हर कोशिश की जाएगी। इसके लिए केंद्र सरकार भी हमारी हर मदद कर रही है।

Next Story
Top