Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भूमि अधिग्रहण बिल पर विपक्षी दलों ने किया बंद का आह्वान, झारखंड सरकार ने तैनात किए 5 हजार से ज्यादा जवान

झारखंड में आज तमाम विपक्षी दलों ने राज्य सरकार के भूमि अधिग्रहण के खिलाफ बंद का आह्वान किया। इन विपक्षी दलों में झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस, झारखंड विकास मोर्चा, राष्ट्रीय जनता दल, वामदल समेत कई अन्य सामाजिक संगठन शामिल है।

भूमि अधिग्रहण बिल पर विपक्षी दलों ने किया बंद का आह्वान, झारखंड सरकार ने तैनात किए 5 हजार से ज्यादा जवान

झारखंड में आज तमाम विपक्षी दलों ने राज्य सरकार के भूमि अधिग्रहण के खिलाफ बंद का आह्वान किया। इन विपक्षी दलों में झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस, झारखंड विकास मोर्चा, राष्ट्रीय जनता दल, वामदल समेत कई अन्य सामाजिक संगठन शामिल है।

इसे भी पढ़ेंः स्कूल ने छात्राओं को दिया सफेद और बेज रंग के इनरवियर पहनने के आदेश, विरोध करने स्कूल पहुंचे पैरेंट्स

झारखंड की राजधानी रांची में जगह-जगह दुकानें बंद पड़ी है। सड़कें सुनसान है। बंद को देखते हुए रांची के डीएसपी श्याम नंदन मंडल ने कहा है कि शांतिपूर्ण विरोध-प्रदर्शन को निश्चित रूप से अनुमति दी जाएगी। हालांकि, अगर कोई, कहीं भी हिंसा करते हुए दिखा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बंद को देखते हुए प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है। झारखंड बंद के कारण राजधानी रांची के ज्यादातर स्कूलों में अवकाश की घोषणा पहले ही कर दी गई है। गृह सचिव ने कहा कि बंद के दौरान आम लोगों को बाधा नहीं आए इसके कड़े इंतजाम किए गए हैं।

डीजीपी ने कहा कि अगर कोई आम जनता को परेशान करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बंद के दौरान लगभग पांच हजार जवान तैनात रहेंगे। उपद्रवियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

गृह सचिव और डीजीपी ने बंद से एक दिन पहले ही प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बंद का आह्वान करने वाले को चेतावनी दे दी है। उन्होने कहा कि स्टेट बंद के दौरान रैपिड एक्शन फोर्स की 6 कंपनियां और होमगार्ड के तीन हजार से अधिक जवान के साथ-साथ टीयर गैस, राइट कंट्रोल यूनिट की भी तैनाती की गई।

उन्होंने कहा कि सीसीटीवी और ड्रोन कैमरा की मदद से बंद पर नजर रखी जाएगी। रांची पुलिस ने हिंसात्मक भीड़ को तितर-बितर करने के लिए टियर हैंड ग्रेनेड मंगवाए है औररबर बुलेट की जगह प्रिंट बॉल मंगाया गया है, जो पीले और काले रंग के हैं।

Next Story
Top