Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

झारखंड मुक्ति मोर्चा के सजायाफ्ता विधायक अमित महतो की विधानसभा सदस्यता खत्म

झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष दिनेश उरांव ने आज झारखंड मुक्ति मोर्चा के सजायाफ्ता विधायक अमित महतो की विधानसभा की सदस्यता 23 मार्च की तिथि से ही समाप्त करने का निर्णय लिया।

झारखंड मुक्ति मोर्चा के सजायाफ्ता विधायक अमित महतो की विधानसभा सदस्यता खत्म

झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष दिनेश उरांव ने आज झारखंड मुक्ति मोर्चा के सजायाफ्ता विधायक अमित महतो की विधानसभा की सदस्यता 23 मार्च की तिथि से ही समाप्त करने का निर्णय लिया।

विधानसभा सचिवालय से जारी सूचना में बताया गया है कि जुलाई, 2013 के सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के आलोक में विधानसभा अध्यक्ष दिनेश उरांव ने आज इस आशय का फैसला लिया।

ये भी पढ़े- गुजरात में 67 आईएएस अधिकारियों का तबादला

अमित महतो को एक पुराने आपराधिक मामले में 23 मार्च को दो वर्ष कैद की सजा सुनायी गयी थी और विधानसभाध्यक्ष ने महतो की विधायकी उसी दिन से खत्म करने का आज निर्णय लिया।

सर्वोच्च न्यायालय ने जुलाई, 2013 के अपने निर्णय में कहा था कि जो भी जन प्रतिनिधि किसी आपराधिक मामले में दो वर्ष या उससे अधिक की सजा पाते हैं उनकी विधान मंडल अथवा संसद की सदस्यता तत्काल प्रभाव से समाप्त मानी जायेगी।

विधानसभाध्यक्ष के आज के इस महत्वपूर्ण फैसले के आलोक में 23 मार्च को राज्य में हुए राज्यसभा चुनावों के परिणाम पर भी सवालिया निशान लगने की आशंका है क्योंकि झारखंड में कांग्रेस के उम्मीदवार धीरज प्रसाद साहू मात्र .01 मत के अन्तर से भाजपा के दूसरे उम्मीदवार प्रदीप सोंथालिया से चुनाव जीत पाये थे।

अब जबकि झामुमो विधायक अमित महतो की विधायकी 23 मार्च से खत्म मान ली गयी है तो 23 मार्च को उनके द्वारा राज्यसभा चुनावों में किये गये मतदान पर भी प्रश्नसूचक निशान लग गये हैं।

ये भी पढ़े- दिल्ली: नौकरी दिलाने का झांसा देकर महिला से गैंगरेप

कांग्रेस के साथ हुए समझौते के तहत झामुमो के सभी 18 विधायकों ने रास चुनावों में धीरज साहू के पक्ष में मतदान किया था। महत्वपूर्ण है कि भाजपा ने साहू के निर्वाचन को इसी आधार पर झारखंड उच्च न्यायालय में चुनौती देने का भी निर्णय लिया था।

Next Story
Top