Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

झारखंड : पलामू में राहगीर की सूझ-बूझ से रूकी 'मॉब लिंचिंग' की घटना, जानें क्या है मामला

झारखंड में पलामू जिला के छतरपुर प्रखंड के सिलदाग गांव में एक राहगीर ने सूझ-बूझ का परिचय देते हुए मॉब लिंचिंग को रोक दिया। सिलदाग गांव में पुरुष, महिलाए और बच्चे एक व्यक्ति को पीट पीटकर मार डालते।

झारखंड : पलामू में राहगीर की सूझ-बूझ से रूकी

झारखंड में पलामू जिला के छतरपुर प्रखंड के सिलदाग गांव में एक राहगीर ने सूझ-बूझ का परिचय देते हुए मॉब लिंचिंग को रोक दिया। सिलदाग गांव में पुरुष, महिलाए और बच्चे एक व्यक्ति को पीट पीटकर मार डालते। लेकिन एक राहगीर की सूझ बूझ के चलते उस व्यक्ति को बचा लिया गया जो मॉब लिचिंग का शिकार होने वाला था।

राहगीर ने तत्तकाल इस मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची और भी के चंगुल से व्यक्ति को छुड़ा लिया और थाने ले आई। छतरपुर के थाना प्रभारी वासुदेव मुंडा ने कहा कि किसी शख्स ने फोन पर थाना क्षेत्र में मॉब लिंचिंग जैसे हालात की जानकारी दी थी।

उसने कहा था कि व्यक्ति की जान खतरे में है उसे भीड़ के द्वारा पीटा जा रहा है। इसके बाद पुलिस घटना स्थल पर पहुची और भीड़ के चंगुल से व्यक्ति को छुड़ाकर थाना ले गए। ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि एक गांव में एक विचित्र व्यक्ति को देखा गया।

वह व्यक्ति न तो पुरुष लग रहा था और न ही महीला। वह व्यक्ति बच्चों को अकेला देखकर पकड़ने को दौड़ पड़ता। जिससे बच्चों में डर बैठ गया और घर से बाहर नहीं निकल रहे। आज जब उस व्यक्ति को गांव के सैकड़ों लोगों ने पकड़ लिया। जब उससे उसके बारे में जानकारी मांगी तो उसने कोई भी संतोषजनक जवाब नहीं दिया। यहां तक की उसने अपना नाम और पता भी नहीं बताया।

Next Story
Top