Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

झारखंड विधानसभा चुनाव : सभी दलों ने खेला दागियों व कुबेरों पर दांव, मैदान में 293 करोड़पति

विधानसभा की 81 सीटों पर पांच चरणों में होने वाले चुनाव में चार चरणों में 65 सीटों के लिए चुनाव संपन्न हो गया है और बाकी 16 सीटों के लिए अंतिम चरण में 20 दिसंबर को मतदान होगा।

देश के विकास के लिए करें मतदानमतदान (प्रतीकात्मक फोटो)

झारखंड विधानसभा की 81 सीटों पर पांच चरणों में हो रहे चुनाव में 1216 प्रत्याशी चुनावी जंग में हैं, जिनमें सभी सियासी दलों ने दागियों और करोड़पति उम्मीदवारों पर दांव खेला है। मसलन इस चुनाव में 335 आपराधिक पृष्ठ भूमि वाले उम्मीदवार चुनावी जंग लड़ रहे हैं तो 293 करोड़पति भी विधानसभा में दाखिल होने के मकसद से चुनाव मैदान में हैं।

राज्य विधानसभा की 81 सीटों पर पांच चरणों में होने वाले चुनाव में चार चरणों में 65 सीटों के लिए चुनाव संपन्न हो गया है और बाकी 16 सीटों के लिए अंतिम चरण में 20 दिसंबर को मतदान होगा। इन सीटों के लिए चुनाव लड़ रहे 127 महिलाओं समेत 1216 उम्मीदवारों में 335 यानि 28 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले विचाराधीन हैं, जबकि 293 यानि 24 फीसदी करोड़पति भी अपनी कस्मित आजमा रहे हैं।

गैर सरकार संस्था एडीआर की जारी वश्लिेषण रिपोर्ट के मुताबिक इस बार एक सीट पर औसतन 15 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। विधानसभा की 81 सीटों पर दागी 335 उम्मीदवारों में सबसे ज्यादा 368 नर्दिलीयों में 71 उम्मीदवारों पर आपराधिक दाग सामने आया है। इसके बाद भाजपा के 79 में से 35 उम्मीदवारों को टिकट थमाया गया है, जबकि जेवीएमपी के 81 में 34, अजसू के 53 में 25, झामुमो के 43 में 19, कांग्रेस के 31 में 16 और निर्दलीय 368 में 71 उम्मीदवारों पर आपराधिक दाग है।

इनमें 222 ऐसे दागी हैं जिनके खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास, बलात्कार जैसे गंभीर मामले विचाराधीन हैं। ऐसे गंभीर मामलों में आरोपी उम्मीदवारों में भाजपा के सर्वाधिक 49 नर्दिलयों के अलावा भाजपा के 23, जेवीएमपी के 21, अजसू व झामुमो के 14-14, कांग्रेस के 13 उम्मीदवार शामिल हैं। वर्ष 2014 के चुनाव में 1136 में दागी उम्मीदवारों की संख्या 330 थी।

13 पर हत्या और पांच पर बलात्कार के मुकदमे

झारखंड विधानसभा चुनाव में उतरे प्रत्याशियों में ऐसे 13 लोग हैं जन्हिोंने अपने खिलाफ हत्या के आरोप के मामले अदालत में विचाराधीन होना स्वीकार किया है। जबकि उम्मीदवारों के खिलाफ महिलाओं के ऊपर अत्याचार संबन्धी मामले हैं, जिनमें पांच प्रत्याशियों के खिलाफ बलात्कार के मामले विचाराधीन हैं। इसके अलावा 52 प्रत्याशियों के खिलाफ हत्या का प्रयास, दस के खिलाफ अपहरण के मामलें लंबित हैं। दागियों में दस उम्मीदवारों के खिलाफ दर्ज मामलों में दोषसद्धि हो चुका है।

भाजपा के सबसे ज्यादा करोड़पति उम्मीदवार

राज्य विधानसभा चुनाव में 293 करोड़पति उम्मीदवारों में सबसे ज्यादा 50 उम्मीदवार भाजपा के टिकट से चुनाव मैदान में हैं, जबकि जेवीएमपी के 33, झामुमो के 31, अजसू के 26, कांग्रेस के 17 करोड़पति उम्मीदवार चुनावी जंग में हैं। वहीं 40 निर्दलीय प्रत्याशी भी करोड़पतियों की फेहरिस्त में शामिल हैं। वर्ष 2014 के चुनाव में 197 करोड़पति उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा था।

कृष्णानंद त्रिपाठी सबसे अमीर प्रत्याशी

झारखंड के पलामू जिले में डाल्टांगज विधानसभा सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे कृष्णानंद त्रिपाठी सबसे ज्यादा 53.54 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित करने वाले उम्मीदवार हैं। इसके बाद दुमका जिले की जरमुंडी विधानसभा सीट से लोजपा के बिरेन्द्र प्रधान से 37.54 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित की है।

जबकि पाकुर विधानसभ सीट से चुनावी मैदान में उतरे अजसू प्रत्याशी आकिल अख्तर 36.53 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ करोड़पति उम्मीदवारों में तीसरे पायदान पर हैं। इसके अलावा देवधर विधानसभा सीट से बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रत्याशी बसंत कुमार आनंद ऐसे प्रत्याशी हैं जिनके पास फूटी कोड़ी भी नहीं हैं।

60 सीटें संवेदनशील

झारखंड की 81 सीटों में 60 ऐसी सीटों को संवेदनशील श्रेणी में शामिल किया गया है, जहां तीन या उससे अधिक आपराधिक छवि वाले उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। हालांकि वर्ष 2014 के चुनाव में ऐसी 62 सीटों को संवेदनशील अलर्ट में रखा गया था।

Next Story
Top