Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

झारखंड में मकर संक्रांति का मेला देखकर घर लौट रही 4 नाबालिगों से सामूहिक दुष्कर्म

झारखंड के खूंटी में बुधवार शाम मकर संक्रांति पर मेला देखकर लौट रही 4 लड़कियों से सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आई है।

झारखंड में मकर संक्रांति का मेला देखकर घर लौट रही 4 नाबालिगों से सामूहिक दुष्कर्मझारखंड में 4 नाबालिगों से सामूहिक दुष्कर्म (फाइल फोटो)

झारखंड के खूंटी से मानवता को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है। यहां बुधवार शाम 6 लड़कियां मकर संक्रांति पर रंग रोड़ी मेला देखकर वापस अपने घर गांव फूंदी लौट रही थीं। इसी बीच कुछ बाइक सवार मनचलों ने लड़कियाें को घेर लिया। इसी बीच 2 लड़कियां वहां से भागने में सफल रही जबकि 4 लड़कियों को आरोपियों ने दबोच लिया। आरोपी सभी 4 नाबालिगों को हातूदामी गांव लेकर चले गए। वहां के एक घर में आरोपियों ने लड़कियों के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया।

पुलिस ने सभी बच्चियों को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल भेज दिया है। आरोपियों की संख्या छह बताई जा रही है। यह घटना गुरुवार को सामने आई। यह मामला खूंटी जिले के हादूतामी गांव का है। लड़कियों की उम्र 12 से 15 साल तक के बीच में बताई जा रही है। सभी लड़कियां पांचवीं-छठवीं कक्षा में पढ़ती हैं।

लड़कियों के साथ ही पढ़ता है एक आरोपी

पीड़िताओं ने अपने बयान में कहा कि वह सभी बुधवार शाम मकर संक्रांति पर रंग रोड़ी मेला देखकर वापस अपने घर गांव फूंदी लौट रही थीं। रास्ते में तीन बाइकों पर सवार 6 लड़के आए और जबरन लड़कियों को अपने साथ ले गए। पीड़िताओं ने बताया कि एक आरोपी उनके साथ ही पढ़ता है। बाकि आरोपियों को पहचानने में पीड़िताएं नाकाम रही।

पुष्कर मुंडा का पुत्र भी शामिल

परिजनों को जैसे ही इसकी सूचना मिली तो वह घटनास्थल पहुंचे। लडकियों को पुष्कर मुंडा के घर से बरामद किया गया। आरोपियों में पुष्कर मुंडा का पुत्र भी शामिल है। घटना के बाद सभी परिजन गांव पहुंचे और घटना की सूचना मुखिया को दी। फिर मुखिया ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस कुछ आरोपियों की पहचान कर चुकी है और आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है। खूंटी पुलिस इस घटना की जांच में जुट गई है।

2018 में भी सामने आया था सामूहिक दुष्कर्म का मामला

2018 में भी खूंटी के कोचांग इलाके में नाटक मंडली की 5 लड़कियों से गैंगरेप की घटना हुई थी। इसमें सात लोगों को अभियुक्त बनाया गया था। आरोपियों में कुछ पत्थरगढ़ी के समर्थक भी थे। लड़कियां कोचांग के स्टॉपमन मध्य विद्यालय में नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत कर रहीं थीं। 15 मिनट बाद दो बाइक पर सवार पांच लोग वहां पहुंचे। तीन युवक लड़कियों को बंदूक की नोक पर कार से बाहर ले गए और सामूहिक दुष्कर्म किया।

Next Story
Top