Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

राजनीति के लिए इस नेता ने महिलाओं का न्यूड फोटो किया सोशल मीडिया पर वायरल

अपनी राजनीति चमकाने के लिए तमाम नेता अजीब-गरीब और विवादित बयान देते ही रहते है। लेकिन कोई नेता अपनी राजनीति चमकाने के लिए मासूम महिलाओं का सहारा भी लेता है।

राजनीति के लिए इस नेता ने महिलाओं का न्यूड फोटो किया सोशल मीडिया पर वायरल

अपनी राजनीति चमकाने के लिए तमाम नेता अजीब-गरीब और विवादित बयान देते ही रहते है। लेकिन कोई नेता अपनी राजनीति चमकाने के लिए मासूम महिलाओं का सहारा भी लेता है। जी हां, झारखंड के एक नेता ने अपनी राजनीति चमकाने के लिए आदिवासी महिलाओं का सहारा लिया।

आदिवासी समाज पूरे झारखंड में इस नेता के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहा है। इतना ही नहीं आदिवासी समाज के लोग उस पर केस दर्ज भी कराएंगे।
आदिवासी महासभा के नेता रामाश्रय सिंह ने आदिवासी महिलाओं की निर्वस्त्र तस्वीरें, सोशल मीडिया पर डाल दी। इतना ही नहीं, इन तस्वीरों को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को बतौर ज्ञापन और प्रेस विज्ञप्ति के रूप में भी भेजा।
आदिवासी महिलाओं ने कहा
यह तस्वीरें महिलाओं ने सिर्फ इस शर्त पर खिंचवाई थीं कि यह राज्य सरकार को भेजी जाएंगी, लेकिन उसने सरकार को तस्वीरें भेजने के साथ ही उन्हें फेसबुक पर डाल दिया, जो वायरल हो गई। यह बात जब महिलाओं के गांवों में पहुंची तो आदिवासी समाज आक्रोशित हो गया। इस घटना को लेकर पूरे झारखंड में प्रदर्शन कर रामाश्रय के खिलाफ केस दर्ज किये जाने की मांग हो रही है।
पीड़ित महिलाओं ने बताया कि डीवीसी में बच्चों की नौकरी के नाम पर यह तस्वीरें रामाश्रय की महिला कार्यकर्ता ने खिंची थी। हमें नहीं पता था कि यह फोटो सार्वजनिक कर दी जाएंगी। हमारे साथ धोखा हुआ है।
रामाश्रय ने मांगी माफी
वहीं, इस बारे में रामाश्रय का कहना है कि मैंने फोटो सोशल मीडिया पर डालकर गलती की। इसके लिए मैं दुखी हूं। सभी फोटो सोशल मीडिया से हटा ली गई है। उन्होंने कहा कि डीवीसी नौकरियों के लिए 50 साल से समाज संघर्ष कर रहा है। 30 बार सरकार ने समझौता किया, लेकिन मुकर गई।
Next Story
Top