Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आतंकी नहीं क्रिकेटर था अबु दुजाना, जानिए- क्यों बल्ला छोड़ उठा ली AK-47

पूरे कश्मीर में बुरहान वानी के बाद अबु दुजाना को ही सबसे आतंकी माना जाता था।

आतंकी नहीं क्रिकेटर था अबु दुजाना, जानिए- क्यों बल्ला छोड़ उठा ली AK-47

कश्मीर के पुलवामा के हाकरीपुरा गांव में सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने मिलकर मंगलवार सुबह घाटी में मौजूद आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के टॉप कमांडर अबु दुजाना को मार गिया। सेना को जानकारी मिली थी कि अबु दुजाना समेत 3 आतंकी उसके साथ इस गांव के एक घर में छिप हुए हैं, इस सूचना के आधार पर सेना ने इस पूरे घर को चारों तरफ से घेर लिया और काफी देर तक दोनों तरफ से हुई गोलीबारी के बाद सेना ने इस घर को ही उड़ा दिया।

इसे भी पढ़ेंः पुलिसवाले ने की शांति के लिए दुआ, हिफाजत में मुस्तैद CRPF जवा

5 साल से थी दुजाना की तलाश

अबु दुजाना बेहद ही शातिर आतंकी था। वो अकसर कुछ दिनों में अपना भेस बदल लिया करता था, ताकि उसकी पहचान खुफिया एजेंसियों के पास न हो। इसके अलावा जानकारी ये भी मिली है कि दुजाना करीब 10 से ज्यादा बार सेना को चकमा देकर भागने में कामयाब रहा है। लेकिन सेना ने बार उसे कोई भी मौका नहीं देना चाहती थी, इसलिए उसने इस घर को ही उड़ा दिया।

सिर पर था 10 लाख का इनाम

अबु दुजाना कितना खतरनाक था इस बात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इसके सिर पर सुरक्षा एजेंसियों ने 10 लाख रुपए का इनाम रखा हुआ था। दुजाना पीओके के गिलगित-बाल्तिस्तान का रहने वाला था। दुजाना, पूरे कश्मीर के लिए लश्कर का कमांडर था। वह 2014 से एक्टिव था। 2013 में आतंकी अबु कासिम की मौत के बाद दुजाना को कमांडर बनाया था।

इसे भी पढ़ेंः कश्मीर में इस्लाम फैलाने के लिए आतंकी मूसा ने बनाया नया जिहादी समूह

बहुत ही अच्छा क्रिकेट खेलता था

अबु दुजाना क्रिकेट का शौकीन था। जानकारी के मुताबिक वो बहुत ही बढ़िया क्रिकेट खेला करता था। लेकिन कुछ आतंकियों के संपर्क में आने के बाद उसने बल्ला छोड़ एके-47 उठा ली। कश्मीर में अबु दुजाना की लोकप्रियता बुरहान वानी के बाद दूसरे नंबर पर थी। हालांकि दुजाना सोशल मीडिया पर इतना लोकप्रिय नहीं था जितने की बुरहान वानी।

Next Story
Top