Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

टेरर फंडिंग मामला: NIA ने अलगाववादियों को भेजा समन

घाटी में अलगाववादी नेताओं ने आतंकवादियों को श्रद्धांजलि देने की अपील की थी।

टेरर फंडिंग मामला: NIA ने अलगाववादियों को भेजा समन

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने कश्मीर के अलगाववादी नेताओं को टेरर फंडिंग के मामले में दिल्ली बुलाया हैं। एनआईए ने इन अलगाववादी नेताओं को आतंकी फंडिंग के संबंध में समन जारी किया है।

इन अलगाववादी नेताओं में तहरीक-ए-हुर्रियत के फारूक अहमद उर्फ 'बिट्टा कराटे' और जावेद अहमद बाबा उर्फ 'गाजी' को अपने बैंक और संपत्ति के दस्तावेज के साथ एनआईए के सामने पेश होने के आदेश दिए गए हैं।

इसके साथ ही सबजार की मौत के बाद घाटी में फैली अशांति को देखते हुए एनआईए ने यासीन मलिक को भी गिरफ्तार कियाहै।

आपको बता दें कि एनआईए ने बिट्टा कराटे से श्रीनगर में पहले भी पूछताछ की थी। और पुलिस ने मुंबई के 26/11 हमले के बाद पाकिस्तान के लश्कर-ए-तैयबा और हुर्रियत नेता सैयद अली शाह गिलानी और नईम खान से भी पूछताछ की थी।

इसे भी पढें- घाटी में तनाव: अलगाववादियों ने बुलाया 2 दिन का बंद, आतंकियों को देंगे श्रद्धांजलि

गिलानी ने एक स्टिंग ऑपरेशन के बाद नईम खान को हुर्रियत से निलंबित कर दिया था। इस स्टिंग ऑपरेशन में खान कथित रूप से स्वीकार कर रहे थे कि उन्हें पाकिस्तान से भारत में आतंक फैलाने के लिए फंड मिल रहा है।

इन सभी नेताओं को कश्मीर में अशांति फैलाने के लिए और सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने के लिए एनआईए ने सबूत जुटाए थे।

जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के नेता यासीन मलिक, सबजार अहमद की मौत के बाद उसके घर गए थे। त्राल में दोनों आतंकवादी सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए थे।

इसके बाद घाटी में सुरक्षाबलों और सेना के खिलाफ विरोध शुरू हुआ था। घाटी में अलगाववादी नेताओं ने आतंकवादियों को श्रद्धांजलि देने की अपील भी की थी।

Next Story
Top