Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मेजर गोगोई के सम्मान में नेशनल कॉन्फ्रेंस ने किया विरोध-प्रदर्शन

मेजर गोगोई ने मंगलवार को कहा था कि अगर शख्स को गाड़ी से नहीं बांधते तो जाती कई लोगों की जाने।

मेजर गोगोई के सम्मान में नेशनल कॉन्फ्रेंस ने किया विरोध-प्रदर्शन

कश्मीर घाटी में पत्थरबाजों से निपटने के लिए एक स्थानीय युवक को जीप पर बांधकर मानव ढाल की तरह इस्तेमाल करने वाले सेना के मेजर नितिन गोगोई के सम्मान पर सियासी घमासान शुरु हो गया है।

बुधवार को मेजर गोगोई के सम्मान में फारूक अब्दुल्ला की पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस के महिला विंग ने श्रीनगर में जमकर नारेबाजी भी की।

क्या था मेजर गोगोई ने

घाटी के युवक को आर्मी की गाड़ी से बांधने वाले मेजर गोगोई ने मंगलवार को पहली बार मीडिया के सामने आए। उन्होंने कहा कि 9 अप्रैल को बडगाम जिले के उत्लिगम गांव में एक मतदान केंद्र पर सुरक्षाबलों के छोटे से समूह को पथराव करने वाले करीब 1,200 लोगों ने घेर लिया था।

उन्होंने दावा किया कि अगर गोली चलती तो कम से कम 12 लोगों की मौत हो जाती। गोगोई ने बताया कि उन्होंने भीड़ को उकसाते हुए एक व्यक्ति को देखा तो मतदान कर्मियों और अर्द्धसैन्य बलों को बचाने के लिए व्यक्ति को पकड़कर जीप से बांधने को कहा।

सेना प्रमुख ने किया मेजर गोगोई की तारीफ

आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने कश्मीर में एक व्यक्ति को मानव ढाल के तौर पर इस्तेमाल करने वाले मेजर नितिन गोगोई को मिले सैन्य सम्मान का पुरजोर बचाव किया है।

उन्होंने कहा कि यह घाटी में विपरीत परिस्थितियों में काम कर रहे जवानों का मनोबल बढ़ाने के लिए है। आर्मी चीफ ने साथ ही यह भी स्पष्ट किया कि मेजर गोगोई के खिलाफ ऐक्शन लेने की जरूरत नहीं है।

उन्होंने कहा कि गोगोई को दिया गया कॉमन्डेशन सम्मान सुरक्षा बलों के आत्मविश्वास को बढ़ाने वाला होगा। आर्मी चीफ ने कहा कि सेना की जिम्मेदारी घाटी में हिंसा में कमी लाना और शांति बहाल करना है। मेजर गोगोई ने इसे ध्यान में रखते हुए फैसला किया।

Next Story
Top