Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कश्मीर विधानसभा में जीएसटी पास, ''एक राष्ट्र-एक कर'' का सपना हुआ पूरा

राष्ट्रपति के आदेश के बाद ''6 जुलाई'' से जम्मू कश्मीर में GST लागू हो जाएगा।

कश्मीर विधानसभा में जीएसटी पास,

जम्मू कश्मीर विधानसभा में जीएसटी पर प्रस्ताव पास हो गया है। जम्मू कश्मीर कैबिनेट अब राज्यपाल को सिफारिशें भेजेगी, जो राष्ट्रपति के आदेश के बाद '6 जुलाई' से जम्मू कश्मीर राज्य में लागू हो जाएगा।

इस तरह से जम्मू कश्मीर में जीएसटी के लागू होते ही 'वन नेशन, वन टैक्स' का सपना भी पूरा हो जाएगा। जम्मू-कश्मीर में जीएसटी पूरे देश के साथ एक जुलाई को लागू नहीं हो पाया था।

संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू कश्मीर को हासिल विशेष दर्जे की वजह से ऐसा हुआ। अब चूंकि जीएसटी बिल पर प्रस्ताव पेश हो चुका है और मंजूरी भी मिल चुकी है।

ऐसे में राष्ट्रपति के दस्तखत के बाद 6 जुलाई से राज्य में जीएसटी लागू हो जाएगा। दरअसल, जीएसटी को लागू करने के लिए अगर जम्मू कश्मीर में अलग कानून बनाया जाता तो भारतीय संविधान के दो चैप्टर में संशोधन की मजबूरी होती।

इसे भी पढ़ें: GST पर सरकार की प्रेस कॉन्फ्रेंस, सवाल जवाब के लिए 6 जुलाई से चलेगी GST क्लास

उन संशोधनों से जम्मू कश्मीर को टैक्स लगाने का अधिकार देना एक जटिल सियासी प्रक्रिया होती जिससे पूरे देश में एक बखेड़ा खड़ा हो सकता था। जम्मू कश्मीर के संविधान की धारा 5 में भी संशोधन की जरूरत पड़ती जो संभव नहीं है। इस कारण राष्ट्रपति से आदेश से इसे लागू करना सबसे बेहतर कदम है।

जम्मू-कश्मीर का अपना संविधान

जम्मू कश्मीर का अपना अलग संविधान है और रियासत सरकार को टैक्स लगाने तथा उसकी वसूली का अधिकार हासिल है। इस व्यवस्था के कारण जम्मू कश्मीर में संविधान से 101वें संशोधन को सीधे लागू नहीं किया जा सकता था। ऐसे में राज्य के विशेष दर्जे को बरकरार रखने के लिए कारगर व्यवस्था की गई।

इसे भी पढ़ें: GST का दूसरा दिन, जानिए पहले दिन क्या-क्या हुआ

6 जुलाई से लागू

जम्मू कश्मीर कैबिनेट अब राज्यपाल को सिफारिशें भेजेगी। राष्ट्रपति के आदेश के बाद 6 जुलाई से जम्मू कश्मीर राज्य में लागू हो जाएगा।

कश्मीर में दुकानें बंद

जम्मू कश्मीर सरकार की कथित ज्यादतियों और जीएसटी को राज्य में लागू करने के खिलाफ हड़ताल के आह्वान के बीच श्रीनगर में ज्यादातर दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे। जम्मू और कश्मीर समन्वय समिति (जेकेसीसी) ने इस हड़ताल का आह्वान किया है।

Next Story
Top