Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कश्मीर में मैरिड और बैचलर आतंकियों को मिलती है अलग-अलग सैलरी

37 गैर शादी शुदा आतंकियों को प्रति माह 2.96 लाख रुपए भेजे जाते हैं जिसका मतलब हर आतंकी को 8 हजार रुपए पगार मिलती है।

कश्मीर में मैरिड और बैचलर आतंकियों को मिलती है अलग-अलग सैलरी

कश्मीर में हिंसा फैलाने के लिए अलगाववीदियों ने कबूला है कि पाकिस्तान उन्हें इसकी इजाजत देता है और उनकी फंडिंग करता है। मतलब कि हिंसा के लिए पाक अलगाववादियों को पैसे देता है।

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि पाक इन पैसों को कैसे देता है और इन पैसों को बांटा कैसे जाता है, पैसे कहां और किसपे खर्च होते हैं।
अगर कोई आलगाववादी पैसों की मांग करता है तो आईएसआई को इस बात की पूरी जानकारी होती है कि क्षेत्र में कितने शादीशुदा मुजाहिद हैं और कितने गैर शादीशुदा। ऐसे आतंकियों की पूरी लिस्ट दी जाती है, जिसमें ये बताया जाता है कि कितने आतंकी भागे हुए हैं और कितने गिरफ्तार हैं। ऐसे आतंकियों के घरवालों की भी पूरी जानकारी दी जाती है जिन्हे पैसे देने होते हैं।

हर क्षेत्र में कितने आतंकी हैं इसका भी हिसाब दिया जाता है। आईएसआई के एजेंट्स को इस क्षेत्र में मौजूद हर एक आतंकी की पूरी जानकारी होती है। पैसे कहां और कैसे खर्च हुआ इसका हिसाब भी आईएसआई को दिया जाता है।
Next Story
Top