Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बड़ी चुनौतियों के बीच क्या रंग लाएगा गृहमंत्री राजनाथ सिंह का जम्मू कश्मीर का दौरा?

देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज से जम्मू एवं कश्मीर के चार दिवसीय दौरे पर हैं।

बड़ी चुनौतियों के बीच क्या रंग लाएगा गृहमंत्री राजनाथ सिंह का जम्मू कश्मीर का दौरा?
देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज से जम्मू एवं कश्मीर के चार दिवसीय दौरे पर हैं। राजनाथ का यह दौरा कई मायनों में अहम माना जा रहा है। जिस तरह से जम्मू कश्मीर में आतंकवाद, हिंसा और पथराव का दौर चर रहा है और विकास का चक्का जाम होता दिखाई दे रहा है। ऐसे में सवाल उठाए जा रहे हैं कि क्या गृहमंत्री का यह दौरा रंग लगाएगा?

सामने हैं कई चुनौतियां

राजनाथ सिंह के सामने इस समय कई चुनौतियां हैं। सबसे अहम तो यही है कि प्रदेश में आतंकी और हिंसा की गतिविधियों पर लगाम लगाया जाए। इसके साथ ही कारोबारी, छात्रों और कश्मीरी पंडितों को साथ लेते हुए प्रदेश को विकास के पथ पर ले जाया जाए। इसके अलावा अलगाववादी संगठनों को रास्ते पर लाते हुए कश्मीर समस्या का स्थायी हल तलाशने का सिलसिला शुरू किया जाए।
अपने दौरे से पहले राजनाथ सिंह ने साफ कर दिया है कि वो जम्मू एवं कश्मीर की समस्या का हल तलाशने के लिए सभी पक्षों से बातचीत को तैयार हैं। उन्होंने कहा, 'मैं चाहता हूं कि सभी से वार्ता हो। मुझसे जो भी मिलना चाहेगा, मैं बात करूंगा। सही मायनों में केंद्र सरकार की मंशा कश्मीर मुद्दे को पूरी तरह से हल करने की है।' लेकिन, यहां देखना होगा कि राजनाथ अलगाववादियों को वार्ता के लिए मना पाते हैं या नहीं।

विकास को पटरी पर लाना

इसके साथ ही राजनाथ का मुख्य फोकस शांति और सुरक्षा बनाए रखने के साथ प्रदेश में विकास को रफ्तार देने पर भी होगा। इसके लिए वो मुख्यमंत्री महबूवा मुफ्ती से अहम बातचीत करेंगे। 2015 में प्रधानमंत्री ने 80 हजार करोड़ रुपये का पैकेज घोषित किया था। इसकी भी बाकायदा समीक्षा की जाएगी। इसके अलावा और भी विकास कार्यों की समीक्षा की जाएगी।

पाक, चीन हैं बड़ी चुनौती

राजनाथ अपने दौरे के दौरान श्रीनगर और जम्मू में प्रदेश के विभिन्न प्रतिनिधिमंडलों से भी मिलेंगे। इसके अलावा गृहमंत्री सीमा सुरक्षा बल, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और जम्मू-कश्मीर पुलिस के अधिकारियों से भी बातचीत करेंगे। यहां वो चीन और पाकिस्तान की ओर से पेश की जाने वाली चुनौतियों पर भी चर्चा और आगे की रणनीति को तैयार करेंगे।

भाजपा की सियासी जमीन

जम्मू कश्मीर मामलों के जानकारों का मानना हैं कि राजनाथ का यह दौरा मुफ्ती सरकार के लिए रोडमैप तैयार करेगा। इसके साथ ही यह भाजपा के लिए भी पुख्ता सियासी जमीन तैयार करने का भी काम करेगा। लेकिन, अभी देखना होगा कि राजनाथ के दौरे से प्रदेश के सभी स्टेकहोल्डर कितना संतुष्ट होते हैं और साथ काम करने को आगे आते हैं।
Next Story
Share it
Top