Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

घाटी में जश्न-ए-आजादी पर तिरंगे को आतंकियों से खतरा

15 अगस्त पर आतंकवादी किसी भी बड़े हमले को अंजाम देने की कोशिश में लगे हैं।

घाटी में जश्न-ए-आजादी पर तिरंगे को आतंकियों से खतरा

कश्मीर घाटी में हाल में आतंकवादी घटनाएं बढ़ने के मद्देनजर वहां स्वतंत्रता दिवस से पहले सुरक्षा बिल्कुल कड़ी कर दी गई है।

अधिकारियों ने बताया कि यहां जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी तथा घाटी के अन्य जिलों में स्वतंत्रता दिवस से पहले महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों के इर्द-गिर्द सुरक्षा कड़ी कर दी गई है ताकि 15 अगस्त के कार्यक्रमों में बाधा डालने की आतंकवादियों की किसी भी कोशिश को नाकाम किया जा सके।

ये भी पढ़ें- घाटी में आतंकियों को लगा हसीनाओं का चस्का, कुछ तो गे के शौकीन

उन्होंने बताया कि घाटी में स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम के मुख्य स्थल बख्शी स्टेडियम को पुलिस और सीआरपीएफ की बड़ी टुकड़ियों से करीब करीब सील कर दिया गया है।

इसी जगह मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को तिरंगा फहराना है। अधिकारियों के मुताबिक शहर और उसके बाहरी इलाको खासकर शहर में प्रवेश के रास्तों पर विशेष चौकियां स्थापित की गई हैं और चेकिंग के लिए वाहनों को रोका जा रहा है ताकि किसी भी आतंकवादी कोशिश को नाकाम किया जा सके।

ये भी पढ़ें- पाक की 1 गोली का जवाब 10 गोलियों से दे रही है सेना: निर्मल सिंह

उन्होंने बताया कि जिला मुख्यालय में भी ऐसी ही व्यवस्था की गई है जहां स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम होना है। सुरक्षाबलों को आतंकवादियों को दूर रखने के लिए बिल्कुल चौकस रहने तथा चेकिंग तेज करने का कहा गया है।

इसी बीच यहां बख्शी स्टेडियम में स्वतंत्रता दिवस परेड का फुल डे रिहर्सल किया गया। कश्मीर के संभागीय आयुक्त बशीर खान ने मार्च पास्ट में सलामी ली जिसमें सुरक्षा बलों और बच्चों की टुकड़ियों ने हिस्सा लिया।

Next Story
Share it
Top