Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आतंकी बैन के बाद भी चला रहे इंटरनेट, जानें कैसे

वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क की मदद से बैन एप्लीकेशन और वेबसाइट को खोला जा सकता है साथ ही कम्प्यूटर की पहचान को भी छुपाया जा सकता है जिनसे ये वेबसाइट यूज की जा रही हैं।

आतंकी बैन के बाद भी चला रहे इंटरनेट, जानें कैसे

कश्मीर में हिंसा और आतंकवाद को रोकने के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार लगातार कोशिशों में जुटी हुई है। सरकार ने घाटी में हिंसा पर लगाम लगाने के लिए 22 सोशल नेटवर्किंग साइटों को बैन किया था लेकिन उसके बावजूद उनका इस्तेमाल करने के लिए प्रॉक्सी साइट का इस्तेमाल किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क की मदद से बैन एप्लीकेशन और वेबसाइट को खोला जा सकता है साथ ही कम्प्यूटर की पहचान को भी छुपाया जा सकता है जिनसे ये वेबसाइट यूज की जा रही हैं।
कश्मीर रेंज के आईजी एसजेएम गिलानी ने कहा कि कश्मीर घाटी में प्रॉक्सी साइट और वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क का इस्तेमाल होने की जानकारी मिली है। इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने आगे कहा कि प्रॉक्सी साइट के इस्तेमाल को रोकने के लिए आने वाले दिनों में बड़े कदम उठाए जा सकते हैं। वीडियो को वीपीएन के जरिए अपलोड किया जा रहा है तकनीकी विंग इसकी जांच कर रहा है कि इसपर नियंत्रण कैसे कर सकते हैं।
Next Story
Top