Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुंजवा हमला: 30 घंटे बाद सेना की कार्रवाई खत्म, सर्च ऑपरेशन जारी

आतंकियों से निपटने के लिए भारतीय सेना के जवानों के साथ यु सेना के जवान भी जुटे हैं।

सुंजवा हमला: 30 घंटे बाद सेना की कार्रवाई खत्म, सर्च ऑपरेशन जारी

जम्मू कश्मीर के सुजवां आर्मी कैंप में शनिवार को हुए आतंकी हमले के जवाब में सेना द्वारा चलाया जा रहा ऑपरेशन खत्म हो गया है। मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक आतंकियों के सफाए के लिए चलाया गया यह ऑपरेशन करीब 30 घंटे तक चला था।

इस ऑपरेशन में सेना ने चार आतंकियों को ढेर किया है तो वहीं 5 जवान भी शहीद हुए। वहीं फिलहाल आतंकियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन जारी है। वहीं एक नागरिक की भी मौत हो गई है और 9 घायल हुए हैं।

इसे भी पढ़ें- सुंजवां आर्मी कैंप आतंकी हमला: ऑपरेशन हुआ खत्म, 5 जवान शहीद - 4 आतंकी ढेर

बता दें कि शनिवार को जम्मू के बाहरी इलाके में स्थित सुजवां में सेना के एक शिविर पर तड़के जैश ए मोहम्मद के आतंकवादियों ने हमला कर दिया था, जिसमें दो सैनिक शहीद हो गए थे, जबकि एक कर्नल रैंक का अधिकारी और एक सैन्य कर्मी की बेटी समेत चार लोग घायल हो गए थे।

इसके जवाब में शनिवार को सेना की ओर से ऑपरेशन शुरू किया गया है। वायु सेना के कमांडोज को भी इसमें शामिल किया गया था। हमले के फौरन बाद सेना के विशेष बलों और विशेष अभियान दल के अतिरिक्त बलों को मौके पर भेजा गया था और भारी गोलीबारी के बीच पूरे इलाके की घेराबंदी की गई थी।

150 परिवारों को सुरक्षित निकाला

एक अधिकारी ने शिविर में हुए हमले की जानकारी देते हुए बताया था कि सेना ने जम्मू कश्मीर लाइट इंफैंट्री की 36 ब्रिगेड के शिविर में मौजूद 150 परिवार क्वार्टरों से लोगों को निकालने के बाद दोनों आतंकवादियों को मार गिराया गया।

हमले में घायल लोगों में एक जूनियर सैन्य अधिकारी की बेटी भी है, जो स्कूल की छुट्टियों के दौरान अपने पिता से मिलने आई थी।

आतंकियों के पास थे ऑटोमैटिक गन और ग्रेनेड

सैन्य सूत्रों का कहना है कि सुंजवा सैन्य शिविर के जवानों को शनिवार तड़के 4:45 बजे संदिग्ध गतिविधि के बारे में पता चला। इन संदिग्धों के आतंकवादी होने का आभास होने पर जवानों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी, जिसके जवाब में उन्होंने ग्रेनेड फेंके और स्वचालित हथियारों से गोलीबारी की।

इसके बाद आतंकवादी जूनियर कमीशंड अधिकारियों (जेसीओ) के आवासीय क्वार्ट्स में घुस गए और एक घर में छिप गए। इसके बाद गोलीबारी करना जारी रखा।

Next Story
Top