Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

टेलर था वो जिसे जीप पर बांधकर घुमाया था

मुझे सेना के जवानों ने 4 घंटे तक 9 गांवों में घुमाया, मैंने आजतक पत्थरबाजी नहीं की।

टेलर था वो जिसे जीप पर बांधकर घुमाया था

श्रीनगर विधानसभा उपचुनाव के दिन सेना की जीप में बंधे दिख रहे व्यक्ति की पहचान फारुक दार के रूप में हुई है, जबकि इसमें शामिल सैन्य इकाई की पहचान 53 राष्ट्रीय राइफल्स के रुप में हुई है।

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के निर्देश पर मामले की जांच कर रहे अधिकारियों ने बताया कि दार मध्य कश्मीर के बड़गाम जिलांतर्गत खाग तहसील के सीताहरण गांव का निवासी है। सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में एक व्यक्ति सेना की एक जीप में बंधा हुआ दिख रहा है।

इस मामले को लेकर फारुक का बयान सामने आया है। उसने इंडियन एक्सप्रेस को अपने बारे में बताया है। फारूख का कहना है कि मैं एक टेलर हूं। मैंने कभी पत्थरबाजी नहीं की है। उसने बताया कि सेना के जवानों में मुझे 9 अप्रैल को सुबह 11 बजे से 3 बजे तक सड़कों पर जीप के आगे बांधकर घुमाया।

फारूख ने बताया कि मुझे करीब नौ गांवों में घुमाया गया। उत्लीगाम से सोनपा, नाजान, चकपुरा, हांजीगुरू, रावलपुरा, खोसपुरा अरीजाल होते हुए जीप हर्दपंजू के सीआरपीएफ के कैंप पर जाकर चुकी।

उसने बताया कि रास्ते में कुछ लोगों ने जवानों से उसे रिहा कर देने की अपील की लेकिन जवानों ने पत्थरबाज बताते हुए उसे छोड़ने से मना कर दिया। बाद में शाम करीब साढ़े सात बजे गांव के सरपंच के सामने उसे रिहा किया गया।

मामले को देखूंगा: राजनाथ

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि वह कश्मीर में शूट किए गए वीडियो के मामले को देखेंगे। इनमें एक व्यक्ति को सेना की एक जीप से बांधने का वीडियो भी शामिल है। सिंह ने कहा, ‘कहीं भी कोई भी घटना होती है, हम उस मामले को देखेंगे। मुझे अभी तक इस वीडियो के बारे में कोई जानकारी नहीं है।'

Next Story
Top