Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

EVM बचाने के लिए जवान खाता रहा लात घूंसे

जवान लोकतंत्र को बचाने की कोशिश कर रहा था। इसे जवान के कमजोर समझने के तौर पर न देखा जाए।

EVM बचाने के लिए जवान खाता रहा लात घूंसे

जम्मू-कश्मीर में आतंकी घटनाओं और अवलगाववादियों के हिंसक प्रदर्शन की वजह से मुश्किलों का सामना कर रहे भारतीय सेना के जवान को वहां के स्थानीय लोगों के गुस्से का भी शिकार होना पड़ता है।

इसी तरह का एक ताजा मामला सामने आया है जिसमें कुछ कश्मीरी युवक केंद्रीय रिजर्व पुलिस के एक जवान को लात मारते हुए दिखाई दे रहे हैं। हालांकि मार खा रहे जवान ने अपने बचाव में कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

इसके बाद सीआरपीएफ ने इस घटना के संबंध में बयान जारी किया। उन्होंने कहा, 'यह वायरल वीडियो बडगाम के इलाके का हो सकता है। जिस दिन वहां उपचुनाव था।'

जवान के बारे में कहा गया कि वह लोकतंत्र को बचाने की कोशिश कर रहा था। इसे जवान के कमजोर समझने के तौर पर न देखा जाए।

सीआरपीएफ के मुताबिक जवान ईवीएम की सुरक्षा कर रहे थे, क्योंकि उसे (ईवीएम को) सुरक्षित रखना काफी जरूरी था। ना कि उस युवक को जवाब देना। जवान ने लोकतंत्र को बचाने के लिए धैय का परिचय दिया।

आपको बतादें कि श्रीनगर लोकसभा क्षेत्र में रविवार को मतदान के दौरान भीषण हिंसा हुई तथा सुरक्षाबलों की गोलीबारी में कम से कम आठ लोगों की जान चली गयी थी।

श्रीनगर, बडगाम और गांदेरबल जिलों में दो दर्जनों से अधिक स्थानों से पथराव की घटना सामने आई थी, ये तीनों ही जिले श्रीनगर लोकसभा क्षेत्र में आते हैं।

भीड़ को नियंत्रित करने में सुरक्षाबलों की मदद के लिए सेना को बुलाना पड़ा था। कुछ लोगो ने पेट्रोल बम फेंककर मतदान केंद्र में आग लगा दी।

Next Story
Top