Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कठुआ मामला: वकीलों ने 8 साल की बच्चे के रेप और रोहिंग्या के मामले पर सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, कर रहे हैं ये मांग

जम्मू-कश्मीर में वकीलों की तरफ ने जम्मू बंद को लेकर देश की सियासत गरमा गई है, इसको लेकर पूरे राज्य में गंभीर महौल बना हुआ है। वहीं दूसरी तरफ जम्मू-कश्मीर की नेश्नल पैंथर पार्टी के सदस्यों ने भी प्रदर्शन किया है।

कठुआ मामला: वकीलों ने 8 साल की बच्चे के रेप और रोहिंग्या के मामले पर सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, कर रहे हैं ये मांग

जम्मू-कश्मीर में वकीलों की तरफ ने जम्मू बंद को लेकर देश की सियासत गरमा गई है, इसको लेकर पूरे राज्य में गंभीर महौल बना हुआ है। वहीं दूसरी तरफ जम्मू-कश्मीर की नेश्नल पैंथर पार्टी के सदस्यों ने भी प्रदर्शन किया है। जम्मू-कश्मीर की सरकार ने इंस बंद को मद्देनजर रखते हुए पूरे राज्य में भारी सुरक्षा बल को तैनात किया है।

ये भी पढ़े: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपने आखरी अफ्रीकी देश जाम्बिया के दौरे पर, भारत की अर्थव्यवस्था को लेकर दिया बड़ा बयान

वहीं जम्मू-कश्मीर में वकीलों ने सरकार के खिलाफ जम्मू बंद का एेलान किया है और साथ ही सरकार के सामने मांग रखी है कि रोहिंग्या को जम्मू से निकाल दिया जाना चहिए, कठुआ में आठ साल की बच्ची के साथ रेप और खून के केस को सीबीआई के हाथ में दे दिया जाए। साथ ही जम्मू-कश्मीर की नेश्नल पैंथर पार्टी के सदस्यों ने भी इस मुद्दों को लेकर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया है।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के कठुआ में आठ साल की बच्ची का रेप किया गया और बाद में उसकी हत्या कर दी गई। मंगलवार को इस मामले को लेकर जम्मू के वकीलों ने सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया और इस मामले में जांच कर रही टीम का भी विरोध किया था। पुलिस ने भी इस विरोध प्रदर्शन में कई वकीलों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

पुलिस का कहना है कि वकीलों ने उनके काम में बाधा डाली है इसलिए उन वकीलों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। बताया यह भी जा रहा है कि बार एसोसिएशन, बीजेपी की राज्य इकाई से ताल्लुक रखती है इसलिए आठ साल की मासूम बच्ची के रेप और हत्या के मामले का राजनीतिकरण करते हुए आरोपियों का बचाव कर रही है।

ये भी पढ़े: भारत में बोले नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली- 'भारत और नेपाल की दोस्ती की तुलना नहीं की जा सकती

गौरतलब है कि मासूम बच्ची से रेप और हत्या के मामले में 8 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है, जिसमें 2 स्पेशल पुलिस अफसर, एक हेड कांस्टेबल, एक सबइंस्पेकटर, एक कठुआ निवासी और एक नाबालिग शामिल हैं।

Next Story
Top