Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

J&K: पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर का उल्लंघन, जन्मदिन के रोज शहीद हुआ BSF का जवान

पाकिस्तान ने बुधवार को एक बार फिर नापक हरकत की है। जम्मू-कश्मीर के सांबा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से युद्ध विराम का उल्लंघन किया है।

J&K: पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर का उल्लंघन, जन्मदिन के रोज शहीद हुआ BSF का जवान
X

पाकिस्तान ने बुधवार को एक बार फिर नापक हरकत की है। जम्मू-कश्मीर के सांबा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से युद्ध विराम का उल्लंघन किया गया। जिसमें एक बीएसएफ का जवान शहीद हो गया।

पाकिस्तान की गोलीबारी में शहीद बीएसएफ के इस जवान का नाम आरपी हाजरा है। हाजरा सांबा सेक्टर में तैनात बीएसएफ में हेड कॉन्सटेबल पद पर तैनात थे और बुधवार को उनका जन्मदिन भी था। पाकिस्तान की ओर से हुई गोलीबारी के बाद भारतीय सुरक्षाबलों की ओर से भी जवाबी कार्रवाई की गई है।

जम्मू-कश्मीर में पिछले दो साल में 10,758 एसपीओ नियुक्त किए गए

जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने आज कहा कि जम्मू कश्मीर में पिछले दो साल में 10,758 विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) नियुक्त किए गए। इनमें 83 प्रतिशत से अधिक की नियुक्ति घाटी के आतंकवाद प्रभावित जिलों से की गई।

महबूबा ने विधानसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में बताया कि 8992 एसपीओ की नियुक्ति कश्मीर जोन में की गई तथा 1,457 एसपीओ की नियुक्ति जम्मू जोन में की गई।

यह भी पढ़ें- ट्रिपल तलाक बिल राज्यसभा में पेश, भारी हंगामे के बीच कार्यवाही स्थगित

उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त 309 अन्य का चयन पुलिस की सीआईडी, रेलवे, सुरक्षा, यातायात और विशेष सुरक्षा समूह जैसी अन्य शाखाओं से किया गया।

जम्मू में सीमावर्ती इलाकों में रहने वालों के लिए होगा 14,400 बंकरों का निर्माण

केंद्र ने जम्मू मंडल में नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास रहने वाले लोगों की सुरक्षा के लिए 415.73 करोड़ रुपये की लागत से 14,400 भूमिगत बंकरों के निर्माण को अनुमति दे दी है। सीएम महबूबा मुफ्ती ने यह बात विधानसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में कही।

महबूबा गृह विभाग की भी प्रभारी हैं। उन्होंने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गत दिसंबर में बंकरों के निर्माण को मंजूरी दी और निर्माण कार्य शुरू करने से पहले विभिन्न औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए कदम उठाने शुरू कर दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें- चीन ने चली नई चाल, अरुणाचल प्रदेश के इस हिस्से को लेकर दिया बड़ा बयान

केंद्र सरकार ने राज्य सरकार से सीमा से पांच किलोमीटर तक के सभी क्षेत्रों के लिए निर्माण संबंधी नियम तैयार करने और सीमा चौकियों के सबसे नजदीक के क्षेत्रों को प्राथमिकता देने को कहा है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story