Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जम्मू कश्मीर : पुलगाम एनकाउंट में शहीद डीएसपी अमन ठाकुर को अंतिम विदाई

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए डीएसपी अमन ठाकुर को आज अंतिम विदाई दी जा रही है। इसके बाद उनका अंतिम संस्कार उनके घर पर किया जाएगा। उनके अंतिम संस्कार में राज्यपाल सत्यपाल मलिक भी पहुंच सकते हैं।

जम्मू कश्मीर : पुलगाम एनकाउंट में शहीद डीएसपी अमन ठाकुर को अंतिम विदाई
जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए डीएसपी अमन ठाकुर को आज अंतिम विदाई दी जा रही है। इसके बाद उनका अंतिम संस्कार उनके घर पर किया जाएगा। उनके अंतिम संस्कार में राज्यपाल सत्यपाल मलिक भी पहुंच सकते हैं।
रविवार को पुलवामा में जैश के तीन आतंकियों को घेरने वाली टीम में अमन ठाकुर शामिल थे। जिसमें जवानों ने 3 आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया।
लेकिन इस दौरान मुठभेड़ में एक पुलिस उपाधीक्षक, सेना के एक जवान शहीद हो गये। अमन ठाकुर जम्मू के रहने वाले थे। उन्होंने अपने वीरता से कई बार अवॉर्ड भी मिले।
जानकारी के लिए बता दें कि आतंकवादियों के एक समूह की मौजूदगी के बारे में पुलिस को खुफिया सूचना मिलने के बाद कुलगाम के तुरिगाम इलाके में मुठभेड़ शुरू हो गई थी। मुठभेड़ शुरू हुई और गोलीबारी में पुलिस उपाधीक्षक अमन ठाकुर गंभीर रूप से जख्मी हो गये। सैन्य अस्पताल ले जाते समय उन्होंने दम तोड़ दिया।
अधिकारियों ने बताया कि मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी भी मारे गये। इनमें से एक की पहचान स्थानीय निवासी के रूप में की गई है जबकि दो अन्य की पहचान की जा रही है। गौरतलब है कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर में जैश-ए-मोहम्मद के एक आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये थे।
कश्मीर पुलिस सेवा के 2011 बैच के अधिकारी और जम्मू के डोडा क्षेत्र के निवासी ठाकुर रविवार के मुठभेड़ के दौरान जम्मू पुलिस दल की अगुवाई कर रहे थे। यह मुठभेड़ करीब तीन घंटे चली। जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने कहा कि यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है जिसमें हमने एक बहादुर अधिकारी को खो दिया।
Next Story
Top