Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जम्मू कश्मीर : कुलगाम में पांच युवकों ने छोड़ा आतंक का रास्ता, इनसे मिली प्रेरणा

जम्मू कश्मीर के कुलगाम जिले से खबर आ रही है कि पांच युवक आतंक का रास्ता छोड़कर मुख्यधारा में वापस आ गए है। जम्मू कश्मीर पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी की पांचों युवकों ने आत्मसमर्पण कर दिया है।

जम्मू कश्मीर : कुलगाम में पांच युवकों ने छोड़ा आतंक का रास्ता, इनसे मिली प्रेरणा

जम्मू कश्मीर के कुलगाम जिले से खबर आ रही है कि पांच युवक आतंक का रास्ता छोड़कर मुख्यधारा में वापस आ गए हैं। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी की पांचों युवकों ने आत्मसमर्पण कर दिया है। बता दें कि 2017 से ही घाटी के युवाओं में बदलाव की बयार देखी गई है।

बड़ी संख्या में ऐसे युवा मुख्यधारा में वापस आ गए हैं। पुलिस के अनुसार ये युवा अलग-अलग आतंकी संगठनों से जुड़े थे। बताया जा रहा है कि इसके पीछे परिवारवालों व पुलिस के अधिकारियों का प्रयास था। मीडिया सूत्रों के अनुसार अभी युवकों के नामों का खुलासा नहीं किया गया है।

श्रीनगर में सेना की 15वीं कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग (जीओसी) लेफ्टिनेंट जनरल के जे एस ढिल्लन ने कश्मीरी युवकों के मां-बाप से अपील की थी कि वे अपने बच्चों को आतंकवादी संगठनों में शामिल होने से रोकें। उन्होंने कहा था कि तहे दिल से मैं व्यक्तिगत तौर पर कश्मीर की सभी मांओं से आग्रह करता हूं कि वे अपने बच्चों को आतंकवादी बनने से रोकें और गुमराह हो चुके बच्चों को वापस लाएं।

ढिल्लन ने कहा कि मैं आपको उनकी सुरक्षा और मुख्याधारा में उनको 100 फीसदी शामिल किए जाने की गारंटी देता हूं। उन्होंने कहा कि जीवन ईश्वर का दिया हुआ सबसे खूबसूरत तोहफा है और इसे अपनों के साथ मिलकर जीना चाहिए। आतंकवाद से सभी को नुकसान है। इसी के बाद से कश्मीरी युवकों में यह बदलाव तेजी से देखा जा रहा है।

Next Story
Top