Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जिस दिन भारत-पाकिस्तान का दोस्ताना संबंध होगा, हल हो जाएगा कश्मीर मुद्दाः फारूक अब्दुल्ला

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कान्फ्रेंस के वरिष्ठ नेता फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि नेशनल कान्फ्रेंस उन सभी रास्तों के लिए खड़ा है जिससे भारत-पाक की दोस्ती बनती है।

जिस दिन भारत-पाकिस्तान का दोस्ताना संबंध होगा, हल हो जाएगा कश्मीर मुद्दाः फारूक अब्दुल्ला

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कान्फ्रेंस के वरिष्ठ नेता फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि नेशनल कान्फ्रेंस उन सभी रास्तों के लिए खड़ा है जिससे भारत-पाक की दोस्ती बनती है। मेरा मानना है कि राज्य के लिए दो देशों की मित्रता महत्वपूर्ण है। जिस दिन दोनों देशों के बीच दोस्ताना संबंध शुरु होंगे, कश्मीर की समस्या का स्वयं ही हल हो जाएगा।

फारूक अब्दुल्ला ने आगे कहा, 'हम सरकार नहीं बनाना चाहते थे क्योंकि हम सत्ता का आनंद लेना चाहते थे, हम उन सभी की रक्षा करना चाहते थे जिसकी राज्यपाल अब कर रहे हैं। हम 35 ए की रक्षा करना चाहते थे, यह सरकार लंबे समय तक टिकने वाली नहीं थी।'
उन्होने आगे कहा, 'आखिरकार लोगों को यह तय करना होगा कि क्या किया जाना है। हम सत्ता के भूखे नहीं थे। पीडीपी, एनसी और कांग्रेस के रास्ते अलग-अलग हैं लेकिन हम साथ आए, क्यों? आप देखते हैं कि जम्मू और कश्मीर के बैंक आज किस स्थिति में हैं। ऐसा कभी नहीं होता था जब हमारी सरकार वहां होती थी।'
बता दें कि हाल ही में पाकिस्तान ने भारतीय सिख समुदाय के लिए करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन किया है। 28 नवंबर को हुए इस ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में भारत से केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और हरसिमरत कौर बादल शामिल हुए। इसके अलावा पंजाब सरकार के मंत्री और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए।
देश की आजादी के 71 साल बाद खुले इन दरवाजों के बाद से भारत-पाकिस्तान की दोस्ती और कश्मीर मुद्दे को लेकर देशभर में बहस जारी है।
Next Story
Top