Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

BSF के 4 जवानों के शहीद होने के बाद सेना ने लिया फैसला, इस बार सांबा में नहीं लगेगा ''चमलियाल मेला''

जम्मू कश्मीर के सांबा में इस बार हर साल लगने वाला चमलियाल मेला नहीं लगेगा। पाकिस्तान द्वारा सीजफायर के उल्लंघन और लगातार गोलाबारी होने के बाद यह फैसला लिया गया है।

BSF के 4 जवानों के शहीद होने के बाद सेना ने लिया फैसला, इस बार सांबा में नहीं लगेगा

जम्मू कश्मीर के सांबा में इस बार हर साल लगने वाला चमलियाल मेला नहीं लगेगा। पाकिस्तान द्वारा सीजफायर के उल्लंघन और लगातार गोलाबारी होने के बाद यह फैसला लिया गया है।

सांबा के एडिशनल डिप्टी कमिश्नर तिलक राज शर्मा ने कहा कि इस महीने के शुरुआत में पाकिस्तान द्वारा की गई फायरिंग में 4 बीएसफ जवानों शहादत होने के बाद यहां अनिश्चितताओं का माहौल बना हुआ है।
जिसे देखते हुए और बीएसएफ, जम्मू कश्मीर पुलिस और कई सुरक्षा एजेंसियों ने भी मेला स्थगित करने की सलाह दी। जिसकी वजह से इस साल बाबा दलित मनहस श्राइन द्वारा आयोजित चामलियाल मेला इस बार आयोजित नहीं होगा।
आपको बता दें कि 12-13 जून की कात को पाकिस्तान ने अचानक गोलाबारी की। इस गोलाबारी में बीएसएफ के 3 अधिकारी समेत 4 जवान शहीद हो गए थे, जबकि 3 अन्य जवान घायल हो गए थे।
इसके बाद से ही सीमा पर तनाव बना हुआ है। सांबा भारत-पाकिस्तान का सीमावर्ती क्षेत्र है। सांबा में लगने वाले इस मेले में लाखों की संख्या में देश विदेश से श्रद्धालु आते हैं। पाकिस्तान की हरकतों और लोगों की सुरक्षा के लिए इस फैसले को लिया गया है।
Next Story
Top