Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बारिश और बर्फबारी से मिली हिमाचल को राहत, 28 MLD तक बढ़ा पारंपरिक जल संसाधनों का स्तरः जयराम ठाकुर

मुख्यमंत्री ठाकुर ने कहा कि यह पर्यटन का मौसम है और शिमला की आबादी इस तरह के संकट की ओर बढ़ रही है। हमारी सरकार ने इस मुद्दे को हल करने के लिए कदम उठाए हैं।

बारिश और बर्फबारी से मिली हिमाचल को राहत, 28 MLD तक बढ़ा पारंपरिक जल संसाधनों का स्तरः जयराम ठाकुर
X

हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि इस साल हमें हिमाचल प्रदेश में कम बर्फबारी और बारिश मिली है। शिमला में पारंपरिक जल संसाधनों में जल स्तर नीचे चला गया है। 2015 जलस्तर 36 लाख लीटर प्रति दिन था, इस साल 22 लाख लीटर प्रति दिन तक गिर गया है।

ये भी पढ़ें- बीजेपी कार्यकर्ताओं की मौत पर बोले बाबुल सुप्रियो, 'हिंसा का समर्थन कर रही राज्य सरकार और पुलिस'

मुख्यमंत्री ठाकुर ने कहा कि यह पर्यटन का मौसम है और शिमला की आबादी इस तरह के संकट की ओर बढ़ रही है। हमारी सरकार ने इस मुद्दे को हल करने के लिए कदम उठाए हैं। कल की बारिश में कुछ राहत मिली है क्योंकि जल स्तर 28.4 एमएलडी (Millions of liters Per Day) तक बढ़ गया है।

बता दें कि हिमाचल प्रदेश के कुछ इलाकों में झमाझम बारिश हुई है। सूबे के कई इलाकों में ओले भी गिरे। मंडी, कुल्लू, बिलासपुर और शिमला में मौसम ने दोपहर को करवट ली। सिरमौर के नाहन में तो ओलावृष्टि हुई। सिरमौर के हरिपूरधार क्षेत्र में बारिश से सड़क तालाब में तब्दील हो गया था।
बारिश और ओलावृष्टि से एक ओर जहां लोगों को गर्मी से राहत मिली, वहीं, दूसरी ओर जंगलों में लगी आग भी बुझ गई है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story