Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शिमला ग्रीष्मोत्सवः 650 महिलाओं ने पारंपरिक नृत्य के साथ दिया 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ' का संदेश

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में आज से शिमला ग्रीष्मोत्सव शुरू हो गया है। इस दौरान ग्रामीण क्षेत्र की 650 महिलाएं पारंपरिक पहनावे के साथ नजर आईं और बेटी बचाओं और बेटी पढ़ाओ के संदेश के साथ लोकनृत्य प्रस्तुत किया। जिसे नाटी कहा जाता है। यह कार्यक्रम शिमला के ऐतिहासिक रिज मैदान में शुरू हुआ। जो दोपहर दो बजे से चार बजे तक चला।

शिमला ग्रीष्मोत्सवः 650 महिलाओं ने पारंपरिक नृत्य के साथ दिया बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ का संदेश
X

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में आज से शिमला ग्रीष्मोत्सव शुरू हो गया है। इस दौरान ग्रामीण क्षेत्र की 650 महिलाएं पारंपरिक पहनावे के साथ नजर आईं और बेटी बचाओं और बेटी पढ़ाओ के संदेश के साथ लोकनृत्य प्रस्तुत किया। जिसे नाटी कहा जाता है। यह कार्यक्रम शिमला के ऐतिहासिक रिज मैदान में शुरू हुआ। जो दोपहर दो बजे से चार बजे तक चला।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस कार्यक्रम में चौपाल, ठियोग, मशोबरा, बसंतपुर, शिमला, रामपुर, ननखड़ी, छौहारा, रोहडू, जुब्बल व कुमारसेन गांवों की महिलाओं ने भी नाटी में भाग लिया। इसमें मुख्‍यत: आंगनबाड़ी कार्यकर्ता शामिल थीं। नाटी का मुख्य उद्देश्य 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' का संदेश देना था। ग्रीष्मोत्सव पर शिमला शहर में जगह-जगह विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जा रहे हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story