Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हिमाचल प्रदेश : गलत आय रिपोर्ट बनाने से नपे तहसीलदार और पटवारी

पैसे की लालच में महिला का झूठा वार्षिक आय रिपोर्ट देने के मामले में नायब तहसीलदार और इलाके के पटवारी पर गाज गिरी है। हिमाचल हाईकोर्ट ने मामले को संज्ञान में लेते हुए मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

हिमाचल प्रदेश : गलत आय रिपोर्ट बनाने से नपे तहसीलदार और पटवारी

पैसे की लालच में महिला का झूठा वार्षिक आय रिपोर्ट देने के मामले में नायब तहसीलदार और इलाके के पटवारी पर गाज गिरी है। हिमाचल हाईकोर्ट ने मामले को संज्ञान में लेते हुए मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की गलत नियुक्ति के मसले से जु़ड़े एक मामले में प्राथी सुनीता की याचिका को 25 हजार रुपए कॉस्ट सहित खारिज कर दिया। कोर्ट ने पाया कि प्रार्थी ने झूठी आय रिपोर्ट के आधार पर नौकरी हासिल की है।

जबकि महिला की वार्षिक आय 12 हजार से ज्यादा है। हाईकोर्ट ने पाया कि महिला का पति महिला की नौकरी से 1 साल पहले से होमगार्ड के पद पर तैनात है। उसकी मासिक आय 6300 रुपए थी।

महिला के गलत आय रिपोर्ट पेश करने के बाद नौकरी के लिए की आई दूसरी महिला को नौकरी से वंचित होना पड़ा। कोर्ट ने महिला के साथ-साथ हल्के के पटवारी और और नायब तहसीलदार को आरोपी मानते हुए 10 जनवरी 2020 तक जवाब देने को कहा है।

Share it
Top