Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल विधानसभा चुनाव: वीरभद्र सिंह ने अर्की विधानसभा सीट से भरा नामांकन

वीरभद्र सिंह ने कहा कि कांग्रेस विकास के एजेंडे पर लड़ेगी और सत्ता में वापसी करेगी।

हिमाचल विधानसभा चुनाव: वीरभद्र सिंह ने अर्की विधानसभा सीट से भरा नामांकन
X

हिमाचल प्रदेश के छह बार के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने प्रदेश में नौ नवंबर को होने वाले चुनाव के लिए सोलन जिले के अर्की विधानसभा क्षेत्र से नामांकन पत्र भरा।

सिंह ने अपने बेटे विक्रमादित्य सिंह के लिए शिमला (ग्रामीण) की सीट खाली कर दी है और अर्की से इस बार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। सैकड़ों समर्थकों और पार्टी कार्यकर्ताओं ने सहायक निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय के बाहर मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया।

इससे पहले 83 वर्षीय कांग्रेस नेता चार बार अपने निर्वाचन क्षेत्रों में परिवर्तन कर चुके हैं। उन्होंने 1983 और 1985 में जुब्बल और कोटखाई से चुनाव लड़ा था।

इसे भी पढ़ें - हिमाचल चुनाव: BJP ने जारी की उम्मीदवारों की सूची, इन दिग्गजों पर खेलेगी दांव

इसके बाद 1990, 1993, 1998 और 2007 में उन्होंने रोहड़ू से चुनाव लड़ा था। इस सीट को अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित किए जाने के बाद 2012 में उन्होंने शिमला (ग्रामीण) विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा था।

नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद सिंह ने कहा कि कांग्रेस आगामी चुनाव विकास के एजेंडे पर लड़ेगी और आसानी से जीत दर्जकर सत्ता में वापसी करेगी।

उन्होंने कहा कि नोटबंदी और माल एवं सेवा कर (जीएसटी) को जल्दबाजी में लागू किये जाने का निर्णय कांग्रेस पर भारी पड़ेगा, क्योंकि इससे व्यापारियों और आम लोगों को समान रूप से परेशानी का सामना करना पड़ा है।

नौदान से चुनाव लड़ रहे राज्य कांग्रेस प्रमुख सुखविंदर सिंह सुक्खू पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि नियमों के अनुसार चुनाव लड़ने की बजाय राज्य कांग्रेस अध्यक्ष को चुनावों के प्रबंध करने चाहिए।

लेकिन अगर उन्होंने चुनाव लड़ने का निर्णय कर लिया है, तो सुचारू रूप से चुनाव कराये जाने के लिए किसी और को पार्टी की राज्य इकाई का प्रमुख बनाया जाना चाहिए।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story