Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

महिला आयोग की टीम पहुंची सुरक्षा जाँच करने, पुलिस कर्मी खेल रहे थे पब्जी

महिला थाना में सोमवार को राज्य महिला आयोेग की चेयरपर्सन प्रतिभा सुमन निरीक्षण करने पहुंची तो पुलिस कर्मी मोबाइल पर पब्जी गेम खेलते हुए पाई गई। उन्होंने फटकार लगाते हुए थाना प्रभारी को कार्रवाई के निर्देश दिए।

महिला आयोग की टीम पहुंची सुरक्षा जाँच करने, पुलिस कर्मी खेल रहे थे पब्जीमहिला पुलिस (प्रतीकात्मक फोटो)

महिला थाना में सोमवार को राज्य महिला आयोेग की चेयरपर्सन प्रतिभा सुमन निरीक्षण करने पहुंची। पुलिस कर्मी मोबाइल पर पब्जी गेम खेलते हुए पाई गई। उन्होंने फटकार लगाते हुए थाना प्रभारी को कार्रवाई के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने महिला आश्रम, सेफ हाऊस और सामान्य अस्पताल में स्थित सुकून सेंटर का भी दौरा किया। उन्होंने यहां की समस्याएं जानी और उन्हें सरकार तक पहुंचा कर जल्द सेे जल्द निवारण का आश्वासन भी दिया।

चेयरपर्सन ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सदस्य चेतना अरोड़ा के साथ महिला आश्रम में वन स्टाॅप सेंटर में दौरा किया। जहां निर्माणाधीन भवन का निरीक्षण किया गया। सेंटर में एक साल में आई 24 शिकायतें मिली। इसके बाद महिला आश्रम में रहने वाली महिलाओं की समस्याएं सुुनी गई। यहां बहुत सी ऐसी महिलाएं मिली, जिन्होंने यहां रहकर अपने बच्चोें को पढ़ाकर उन्हें सरकारी नौकरी के मुकाम तक पंहुचाया। उन्होंने समस्याओं पर जल्द कार्रवाई का आश्वासन दिया।

चेयरपर्सन इसके बाद महिला थाने में निरीक्षण करने पहुंची। जहां रिकार्ड की जांच की गई। उन्होेंने थाने में शिकायत करने आई चार महिलाओं से भी बातचीत की। इस दौरान शिकायकर्ता महिलाएं पुलिस कार्रवाई से संतुष्ट मिली। इस दौरान महिला पुुलिस थाने की छत पर महिला कर्मी पब्जी खेेलते हुए पाई गई। चेयरपर्सन ने महिला थाना प्रभारी कमलेश देवी से इस मामले में सवाल किया तो उन्हें बताया गया कि इन्होंने कुछ दिन पहले ही ज्वाइनिंग की हैै। इसके अलावा कर्मचारियों ने बताया कि उनकी डयूटी इस समय समाप्त हो गई है। चेयरपर्सन ने कहा कि सरकार उनको वेतन देती है इसलिए डयूटी में कोताही न बरतें। उन्होंने लापरवाह कर्मचारियों पर कार्रवाई के आदेश दिए।

उन्होने सेफ हाउस का भी निरीक्षण किया। यहां रहने वाले प्रेमी जोड़ों ने शिकायत की कि यहां पुुलिस कर्मचारियों और उनके लिए एक ही शौचालय है। इसके अलावा गर्मियों ने इन्वर्टर न होने से परेशानी आती है। उन्होंने बाद में सामान्य अस्पताल में चल रहे सुुकून सेंटर का दौरा किया जहां साल भर में 137 शिकायतें मिलनी पाई गई। बाद में उन्होंने पीजीआई में पीड़िता से मुलाकात की।

वर्जन-

दौरे के दाैरान समस्याएं जानने का प्रयास किया गया है। इन समस्याओं को सरकार को भेजा जाएगा और जल्द से जल्द समस्याओं का निवारण करवाने के प्रयास किए जाएंगे।

प्रतिभा सुुमन, चेेयरपर्सन, राज्य महिला आयोग

Next Story
Top