Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ग्रामीणों ने कहा, जरुरत पड़ी तो एम्स के लिए अपनी निजी जमीन दे देंगे

एम्स के लिए निजी जमीन देने का ऐतिहासिक फैसला लेते हुए कहा कि जमीन को लेकर अटके पड़े एम्स निर्माण को लेकर प्रशासन जल्द प्रक्रिया शुरू करे।

ग्रामीणों ने कहा, जरुरत पड़ी तो एम्स के लिए अपनी निजी जमीन दे देंगेप्रतीकात्मक फोटो

कुंड के मनेठी में प्रस्तावित एम्स को लेकर एम्स बनाओ संघर्ष समिति की बैठक रविवार को मनेठी स्थित कार्यालय में हुई। जिसमें ग्रामीणों ने एम्स के लिए निजी जमीन देने का ऐतिहासिक फैसला लेते हुए कहा कि जमीन को लेकर अटके पड़े एम्स निर्माण को लेकर प्रशासन जल्द प्रक्रिया शुरू करे।

अगर जरुरत पड़े तो वे अपनी निजी जमीन देने को तैयार है। ग्रामीणों के इस फैसले की समिति ने सराहना की और खुले दिल से प्रशासन के साथ काम करने को कहा। समिति के प्रधान व गांव मनेठी के सरपंच श्योताज सिंह ने कहा कि समिति के पांच सदस्य बावल के विधायक व मंत्री डा. बनवारी लाल से मिलेंगे और लिए गए फैसले से अवगत कराएंगे।

उन्होंने कहा कि एम्स को लेकर मनेठी के ग्रामीण तन-मन और धन से साथ है। अब संबंधित विभाग एम्स के शिलान्यास की प्रक्रिया जल्द शुरू की जाए। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों ने उनकी निजी भूमि एम्स को देने की जिम्मेदारी उन्हें सौंपी है। बैठक में डा. एच.डी. यादव, कर्नल राजेन्द्र सिंह, औमप्रकाश सैन, पृथ्वीपाल, रोहताश यादव, वीपी यादव, दिलबाग सिंह, रामनिवास, आजाद सिंह नांधा पार्षद, जितेन्द्र कुमार, वेदप्रकाश, रामपाल, सुरेश कुमार, विवेक ने विचार रखे।

इस मौके पर पवन कुमार, दलबीर सिंह, विनोद कुमार, राजकुमार, रामस्वरूप, धर्मपाल, जयदयाल, भारत, बीड़ी यादव, तुलाराम यादव, देशराज, घनश्याम, बीरसिंह, ओपी यादव, घीसाराम, बलवंत सिंह, अमरजीत सिंह, संदीप यादव, अशोक जांगिड़, महाबीर, प्रभात सिंह, राजरानी, सुमेर सिंह, राजेन्द्र सिंह, रामपाल, नवीन, बाबूलाल, औमप्रकाश यादव आदि उपस्थित थे। वहीं बैठक में सभी ने हैदराबाद में हुई घिनौनी घटना का कड़ी निंदा करते हुए आरोपियों को सख्त सजा देने की मांग की।

Next Story
Top