Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मृतक पति के मुआवजे को भटक रही पीड़िता, स्वीकृति के बाद भी कर्मचारी कर रहे आनाकानी

रोहतक के बाबरा मोहल्ला की रहने वाली जयंती देवी राजीव गांधी परिवार बीमा योजना के तहत अपने मृतक पति के मुआवजे के लिए पिछले कई सालों से जिला समाज कल्याण विभाग के चक्कर काट रही हैं।

लापता नाबालिग लड़की का मिला अधजला शव, दो टुकड़ो में था बिखरानाबालिग लड़की का मिला अधजला शव

रोहतक के बाबरा मोहल्ला की रहने वाली जयंती देवी राजीव गांधी परिवार बीमा योजना के तहत अपने मृतक पति के मुआवजे के लिए पिछले कई सालों से जिला समाज कल्याण विभाग के चक्कर काट रही हैं। जयंती देवी ने कहा कि चंडीगढ़ से पैसे स्वीकृत होने के बाद भी समाज कल्याण विभाग के कर्मचारी कार्यालय के बार बार चक्कर कटवा रहे हैं और पैसे देने में आना कानी कर रहे हैं। इसी को लेकर वह बुधवार को एसडीएम से मिली।

पीड़िता जयंती देवी ने कहा कि उसके पति की मृत्यु जनवरी 2014 में हुई थी। उस समय उसके पति की उम्र 32 साल थी और इस उम्र में सरकार इस योजना के तहत 1 लाख 20 हजार रुपये देती है। जयंती देवी ने कहा कि उस समय उन्हें 20 हजार रुपये तो दे दिए गए, लेकिन बाकी के एक लाख रुपये अभी तक नहीं मिले हैं। उन्होंने बताया कि समाज कल्याण विभाग के कर्मचारी उसे बार-बार कार्यालय के चक्कर कटवा रहे हैं। जयंती देवी ने बताया कि बुधवार को भी जब वह समाज कल्याण विभाग गई तो कर्मचारी ने उन्हें पैसे देने से इंकार कर दिया।

जिसके बाद वह एसडीएम के समक्ष पेश हुई और उन्हेें सारी बात से अवगत करवाया। जंयती देवी के अनुसार एसडीएम ने संबंधित विभाग के कर्मचारियों को अपने कार्यालय बुलाया और इस बारे में जानकारी ली। जिसके बाद कर्मचारियों ने कहा कि इनके पैसे चंडीगढ़ कार्यालय से कैंसिल हो गए हैं। जिस पर एसडीएम ने उनसे कैंसिल होने संबंधी कागज दिखाने को कहा। जयंती देवी के अनुसार कर्मचारी वो कागजात पेश नहीं कर पाए, जिसके बाद एसडीएम ने उन्हें एक सप्ताह बाद आने का समय दिया।

Next Story
Top