Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Kaithal : बिजली गिरने से बारहवीं के छात्र की मौत, मां से यह कहकर गया था

कैथल (Kaithal) के बीरबांगड़ा गांव में 12वीं के छात्र की आसमानी बिजली गिरने से मौत हाे गई। वहीं दो बहनों के इकलौते भाई की मौत से गांव में हर किसी की आंखें नम थी।

Kaithal : बिजली गिरने से बारहवीं के छात्र की मौत, मां से यह कहकर गया था
X
अमन का फाइल फोटो

कैथल। गांव बीरबांगड़ा में आसमानी बिजली (Sky lightning) गिरने से 12वीं के छात्र (student) की मौत से घर में मातम छा गया। दो बहनों के इकलौते भाई (Brother) की मौत से हर किसी के आंखें हुई नम। गांव बीरबांगड़ा निवासी 18 वर्षीय अमन पुत्र रघुबीर खेत में तूडी का कूप बांधने के लिए अपने अन्य साथियों के साथ खेत में गया था। रविवार को सुबह 11 बजे अचानक तेज अधड़ व बरसात के साथ बिजली गजरने लगी। जो अमन की मौत बनकर उस पर पड़ी। गंभीर अवस्था में साथियों ने शीघ्र उसे राजौंद के सामुदायिक ले जाया। जहां उसे कैथल के निजी अस्पताल में ले जाया गया। जहां उसे मृत घोषित किया गया। बाद में उसे सरकारी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंपा गया।

दो बहनों का इकलौता भाई था अमन

डेढ़ वर्ष पहले एक बहन की बीमारी के कारण मौत हो गई थी। अमन का पिता रघुबीर मेहनत मजदूरी करके घर का गुजारा चला रहा है। अमन राजौंद के सरकारी स्कूल में बारहवीं कक्षा का छात्र था। लाकडाउन (Lockdown) के कारण छुट्टियां होने के कारण वह अक्सर काम करने के लिए खेत में चला जाता था। रविवार सुबह जब वह काम पर जाने लगा तो मां ने उसे रोका भी था। इस पर उसने मां से कहा था दो तीन घंटे में काम पूरा करके वापस हो जाऊंगा और कुछ पैसे भी मिल जाएंगे। लेकिन उसे क्या पता था कि अब वह आखिरी बार मिलकर जा रहा है। दोबारा कभी नही मिलेगा। इस समय दो बहनों में अमन छोटा था। घर की आर्थिक स्थिति बहुत नाजुक है। अमन का पिता भी हैंडीकैंप होने के कारण थोड़ा बहुत ही कमा पाता है।

कूप के पास अपने कपड़े लेकर आना बना मौत का कारण

रविवार को अचानक तेज बारिश होने से अमन के सभी साथी साथ लगते खेत के कोठे में चले गए। अचानक अमन को याद आया कि वह अपने कपड़े तो कूप के पास ही छोड़ आया है। जैसे ही वह कपड़े लेने वहां पहुंचा तो अचानक जोरदार बिजली उस पर गिरी तो आवाज सुनते ही उसके साथी भी अनहोनी की सोचकर उसकी तरफ दौड़े। इतने में अमन अचेत हो चुका था वह उसे तुरंत अस्पताल लेकर गए। पिता रघुबीर ने बताया कि वह अमन को राजौंद के सरकारी अस्पताल ले गए, लेकिन वहां डाक्टर नहीं मिला। कैथल के एक निजी अस्पताल में लेकर पहुंचे तो वहां से जिला नागरिक अस्पताल भेज दिया गया। यहां डाक्टरों ने अमन को मृत घोषित कर दिया।

Next Story