Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

महिला की चिता से छेड़छाड़ करने वाले तीन तांत्रिक गिरफ्तार, कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेजा

रूपचंद का कहना है कि करीब 2 घंटे बाद उनका बेटा जगदीश और एक रिश्तेदार शाहजहांपुर गांव निवासी हरिचंद चिता को देखने के लिए गए थे। आरोप है कि वहां पर जगदीश और हरिचंद ने देखा कि साधुवेश धारी 3 तांत्रिक बिमला की जलती चिता पर छेड़खानी कर रहे थे

महिला की चिता से छेड़छाड़ करने वाले तीन तांत्रिक गिरफ्तार, कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेजा

छांयसा गांव स्थित 3 तांत्रिक यमुना किनारे जल रही महिला की चिता पर शुक्रवार रात चावल पकाकर तांत्रिक क्रिया कर रहे थे। तभी वहां पर अचानक महिला के परिजन पहुंच गए। जिन्होंने आरोपी तीनों तांत्रिकों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर शनिवार को उन्हें कोर्ट में पेश कर दिया।

कोर्ट ने तीनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। पुलिस के अनुसार छांयसा गांव निवासी रूपचंद की 50 वर्षीय पत्नी बिमला का शुक्रवार को दिल की बीमारी के चलते अचानक निधन हो गया था। जिस पर परिवार के लोगों ने शाम करीब 5 बजे बिमला के शव का यमुना किनारे पर बने श्मशान घाट में विधि विधान से अंतिम संस्कार कर दिया।

थोड़ी देर वहां पर रूकने के बाद सभी लोग घर पर आ गए। रूपचंद का कहना है कि करीब 2 घंटे बाद उनका बेटा जगदीश और एक रिश्तेदार शाहजहांपुर गांव निवासी हरिचंद चिता को देखने के लिए गए थे। आरोप है कि वहां पर जगदीश और हरिचंद ने देखा कि साधुवेश धारी 3 तांत्रिक बिमला की जलती चिता पर छेड़खानी कर रहे थे।

तीनों ने बिमला की खोपड़ी को बाहर निकाला हुआ था और उसके ऊपर मिट्टी की मटकी में चावल व गुड को पकाया जा रहा था। जिस पर जगदीश और हरिचंद ने शोर मचा दिया। शोर मचाए जाने पर तीनों तांत्रिक धमकी देते हुए भागने लगे, मगर तब तक गांव के अन्य लोग पहुंच गए। ग्रामीणों ने तीनों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।

पूछताछ पर पता चला कि आरोपियों में तांत्रिक सुरजन नाथ करीब 15 साल से अटाली गांव के धार्मिक स्थल पर रहता है, जबकि वीरनाथ भी छांयसा गांव के ही धार्मिक स्थल पर काफी समय से रहता है। तीसरा आरोपी भारत करीब 15 दिन पहले ही छांयसा गांव में वीरनाथ के पास रह रहा है।

जांच अधिकारी एएसआई नरेंद्र कुमार ने बताया कि तीनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर तांत्रिक प्रक्रिया में अपनाई जा रही मटकी, चावल व गुड को कब्जे में ले लिया गया। तीनों को शनिवार को कोर्ट में पेश कर दिया। कोर्ट ने उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

Next Story
Share it
Top