Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Jhajjar : बस में चढ़ी सवारी तो परिचालक हुआ खुश, बोला दो महीने बाद काटी है टिकट

लाकडाउन (Lockdown) के चलते पिछले दो महीने से बंद बस सेवा शुरू हो गई लेकिन शनिवार को झज्जर से बादली जाते समय एक यात्री तो आते समय दो यात्रियों ने की यात्रा। लेकिन इस दौरान यात्री को बस में चढ़ता देखकर परिचालक के चेहरे पर एकाएक मुस्कान आ गई और बोला दो महीने बाद टिकट काटी है, बताओ बाऊजी कहा जाना है।

Jhajjar : बस में चढ़ी सवारी तो परिचालक हुआ खुश, बोला दो महीने बाद काटी है टिकटझज्जर बस स्टैड से रवाना होने से पूर्व बस के पास खड़े चालक-परिचालक व रोडवेज बस में टिकट काटता हुआ परिचालक।

तपस्वी शर्मा. झज्जर

समय सुबह पौने आठ बजे, शहर के बस स्टैंड (Bus stand) परिसर में बहादुरगढ़, दूबलधन माजरा और बादली जाने के लिए बूथों पर खड़ी रोडवेज (Roadways) की बसें और यात्रियों का इंतजार कर रहे चालक- परिचालकों के अलावा लॉकडाउन (Lockdown) पर चर्चा करते हुए विभिन्न यूनियनों से जुड़े पदाधिकारी। बिल्कुल शांत माहौल के बीच किसी भी रूट पर जाने के लिए कोई यात्री नहीं। जैसे ही आठ बजे बादली जाने के लिए चालक जयबीर, परिचालक जगमेंद्र मुंह पर मास्क लगाए हुए अपनी बस के पास आए और बस मेंं चढ़ गए।

आठ बजकर तीन मिनट पर बस, बिना किसी सवारी के बस, बस स्टैंड परिसर से निकली और धौड़ चौक, छिकारा चौक, पुराना बस स्टेंड रोड, सिलानी गेट होते हुए जैसे ही बस 8 बजकर 14 मिनट पर कुलदीप सिंह चौक पर पहुंची, तभी एक व्यक्ति बस में चढ़ा। यात्री को बस में चढ़ता देखकर परिचालक के चेहरे पर एकाएक मुस्कान आ गई और बोला दो महीने बाद टिकट काटी है, बताओ बाऊजी कहा जाना है। बादली जाने की बात कहते हुए व्यक्ति ने टिकट ली और फिर परिचालक अपनी सीट पर आकर बैठ गया।

पूछने पर यात्री ने बताया कि सतबीर नाम है और दिल्ली के गोपाल नगर का रहने वाला हूं। अपने गांव पलड़ा में गेहूं लेने के लिए आया था। सुबह गांव से चला तो झज्जर तक मोटरसाइकिल सवार युवक ने लिफ्ट दे दी और भगत सिंह चौक पर उतार दिया। काफी देर तक इंतजार करने पर जब कोई साधन नहीं मिला तो मेन बाजार से कुलदीप सिंह चौक पर आ गया। यहां अब बस मिली है, ढांसा बार्डर से आगे के लिए कोई साधन मिल जाएगा। बस अपने गंतव्य की ओर दौड़ रही है और इसी बीच 8 बजकर 24 मिनट पर बस जहांगीरपुर गांव पहुंचती है, बस को देखकर लोगों के चेहरों पर खुशी दिखाई दी, बस ने थोड़ा से ब्रेक लिया, लेकिन कोई यात्री नहीं मिला तो फिर बस बादली की ओर दौड़ पड़ी। 8 बजकर 35 मिनट पर बस, बादली बस स्टैंड पर पहुंची और सवारी नीचे उतर गई और चालक-परिचालक बस को बस स्टेंड में लगाकर 9 बजकर 20 मिनट होने का इंतजार करने लगे।

वापसी में जहांगीरपुर तक कोई भी यात्री बस में सवार नहीं हुआ

निर्धारित समयानुसार बस 9 बजकर 20 मिनट पर झज्जर के लिए चली। बादली से झज्जर के लिए एक व्यक्ति मनोज बस में सवार हुआ और बस झज्जर की ओर चल पड़ी। जहांगीरपुर तक कोई भी यात्री बस में सवार नहीं हुआ। जहांगीरपुर बस स्टैंड पर एक व्यक्ति ने बस को रुकवाया और बस में सवार हो गया। वह व्यक्ति जहांगीरपुर से उखलचना कोट गांव के लिए सवार हुआ। जैसे ही कोट गांव आया, व्यक्ति बस से उतर गया और बस फिर झज्जर के लिए रवाना हो गई। झज्जर तक बीच रास्ते ओर कोई यात्री सवार नहीं हुआ। करीब दस बजे बस स्टैंड परिसर में पहुंच गई। कुल मिलाकर जाते समय एक व्यक्ति ने और आते समय दो व्यक्तियों ने रोडवेज बस में यात्रा की।


Next Story
Top