Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

घर खर्च मांगने पर पति ने दिया तीन तलाक, आरोपी के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया

सरकार की ओर तीन तलाक को दंडनीय बनाने देने के बाद एक और तीन तलाक का मामला सामने आया है। पत्नी के घर खर्च के लिए रुपये मांगने पर पति ने तीन तलाक दे दिया। जिसके बाद मुस्लिम वुमैन प्रोटैक्शन ऑफ राइट के अंतर्गत आरोपी पति के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

दहेज की मांग पूरी न हुई तो पत्नी को दिया तीन तलाक, पति समेत परिवार के 7 सदस्यों के खिलाफ केस दर्जOne More case of Teen Talaq, case registered against alleged person

गांव अमादलपुर में पति ने अपनी पत्नी को तीन तलाक दे दिया। मामला 15 अगस्त का है। बताया जा रहा है आरोपित व्यक्ति अपनी पत्नी को घर चलाने के लिए खर्चा नहीं देता था। जब महिला अपने पति से पैसे मांगती थी तो उसके साथ मारपीट करता था। इसी के चलते व्यक्ति ने गुस्से में अपनी पत्नी को तीन तलाक दे दिया। परिजनों के समझाने के बाद भी जब व्यक्ति नहीं माना तो महिला ने इसकी शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने मामले की जांच के बाद आरोपित व्यक्ति के खिलाफ मुस्लिम वुमैन प्रोटेक्शन राइट एक्ट-2019 में केस दर्जकर कार्रवाई शुरू कर दी।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सलमा ने बूडिया पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह हिमाचल प्रदेश की रहने वाली है। उसका निकाह करीब 12 साल पहले अमादलपुर के युसूफ के साथ हुआ था। निकाह के बाद उनके पास दो बच्चे हुए।

उसका पति निकाह के बाद से ही उसे परेशान करता था। आरोपित उसे घर का खर्च चलाने के लिए पैसे नहीं देता था। जब वह उससे पैसे मांगती थी तो उसके साथ मारपीट करता था। सलमा ने बताया कि 15 अगस्त को उसके पति ने उसे गुस्से में तीन तलाक दे दिया और उसे घर से निकाल दिया। जिसके बाद वह अपने मायके चली गई।

घटना के बाद उसके परिजनों ने युसूफ को कई दिन तक समझाने का प्रयास किया लेकिन वह नहीं माना। जिसके बाद पीडित महिला ने इसकी शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने मामले की जांच के बाद आरोपित व्यक्ति के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।

Next Story
Share it
Top