Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

झगड़े में बीच-बचाव करने पहुंचे छात्र को चाकुओं से गोदा, उपचार के दौरान तोड़ा दम

मृतक के परिजनों ने हत्यारोपितों को जल्द काबू करने की मांग, पुलिस ने तीनों को दबोचा ।

25 वर्षीय युवक की तेजधार हथियार से वार कर की हत्यायुवक की चाकू से गला रेतकर हत्या (फाइल)
हरिभूमि न्यूज. सोनीपत। मोहाना थाना क्षेत्र के गांव रहमाणा में युवकों के बीच हो रहे झगड़े में बीच-बचाव करते समय युवकों ने चाकूओं से हमला कर घायल कर दिया। उसके बाद उसे जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गये। परिजन घायल को लेकर पीजीआई में पहुंचे। जहां उपचार के दौरान छात्र ने दम तोड़ दिया। मामले की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया। परिजनों ने शव को लेने से मना कर आरोपितों को गिरफ्तार करने की मांग की। पुलिस ने तीन आरोपितों को काबू कर लिया हैं। गिरफ्तार आरोपित रिंकू निवासी रहमाना, प्रमोद, अनित निवासी चटिया ओलिया का हैं। पुलिस मामले की गंभीरता से जांच कर रही हैं।

गांव रहमाणा निवासी प्रेम ने बताया कि उसका बेटा अंकित (19) 12 वीं कक्षा का छात्र हैं। सोमवार को वह पेपर देकर घर आया था। उसके बाद घुमने के लिए बाहर चला गया। गली में अंकित पुत्र महाबीर के साथ गांव का रहने वाला रिंकू व उसके दो दोस्त झगड़ा कर रहे थे। उसका बेटा झगड़े में बीच-बचाव करने लगा। तीनों ने उसके बेटे अंकित पर चाकूओं से हमला कर दिया। उसे घायल अवस्था में छोड़कर जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गये। मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे। घायल अवस्था में अंकित को पीजीआई में लेकर जाया गया। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। मामले की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची मोहाना थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया। परिजनों ने शव लेने से मना कर दिया। परिजनों ने हत्यारोपितों को गिरफ्तार करने की मांग की। उसके बाद पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

प्रभारी मोहाना थाना के महीपाल सिंह ने कहा, 'झगड़े में बीच-बचाव कर रहे छात्र पर तीन युवकों ने चाकू से हमला कर घायल कर दिया। जिसकी उपचार के दौरान मौत हो गई। मृतक के पिता के बयान पर तीन आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया हैं। पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया हैं। आरोपितों को अदालत में पेश कर रिमांड की अपील की जायेगी। ताकि वारदात में प्रयुक्त हथियारों को बरामद किया जा सके('

Next Story
Top