Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पिता को गोली मारने के जुर्म में बेटे को आजीवन कारावास

जिला एवं सत्र न्यायाधीश बलजीत सिंह की अदालत ने पिता पर फायरिंग कर जानलेवा हमला करने के जुर्म में बेटे को आजीवन कारावास तथा एक लाख पांच हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है।

सांकेतिक फोटोसांकेतिक फोटो

जींद जिला एवं सत्र न्यायाधीश बलजीत सिंह की अदालत ने पिता पर फायरिंग कर जानलेवा हमला करने के जुर्म में बेटे को आजीवन कारावास तथा एक लाख पांच हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न भरने की सूरत में दोषी को छह माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।

अभियोजन पक्ष के अनुसार गांव अहिरका निवासी रणबीर ने सात अगस्त 2017 को सदर थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह मकान के सामने गली में खड़ा हुआ था। उसी दौरान उसका बेटा रविंद्र बाइक लेकर उसके पास पहुंचा और उस पर अपने पास मौजूद असलहा से फायर कर दिया।

गोली लगने से वह घायल हो गया। घटना को अंजाम देकर रविंद्र बाइक को मौके पर छोड़कर फरार हो गया। घायल रणबीर को उपचार के लिए पीजीआई रेफर कर दिया गया। गोली मारने के पीछे रणबीर द्वारा रविंद्र को मांगने पर रुपये न देना कारण रहा।

जिससे खफा होकर रविंद्र ने अपने पिता पर जानलेवा हमला किया। सदर थाना पुलिस ने रणबीर की शिकायत पर रविंद्र के खिलाफ जानलेवा हमला, शस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया था।

तभी से मामला अदालत में विचाराधीन था। शुक्रवार को जिला एवं सत्र न्यायाधीश बलजीत सिंह की अदालत ने रविंद्र को आजीवन कारावास तथा एक लाख पांच हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न भरने की सूरत में दोषी को छह माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।

Next Story
Top