Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सिक्योरिटी एजेंसी के कर्मचारी ने कंपनी के खाते से उड़ाए 8 लाख, मामला दर्ज

गुरुग्राम के सेक्टर 109 स्थित सिक्योरिटी एजेंसी में काम करने वाले एक व्यक्ति ने कंपनी खाते के 36 चेक चुरा लिए। उसके जरिए कंपनी के पैसे चोरी करके विभिन्न खातों में करीब साढ़े आठ लाख रुपये जमा कर लिए।

सिक्युरिटी एजेंसी कर्मचारी ने कंपनी खाते के चैक चुराकर किया 8 लाख से ज्यादा का गवनसिक्युरिटी एजेंसी के कर्मचारी ने कंपनी के चैक चुराकर किया लाखों का गवन

गुरुग्राम (Gurugram) के सेक्टर 109 स्थित निजी सिक्युरिटी एजेंसी (Security Agency) के मालिक ने अपने एक कर्मचारी के खिलाफ धोखाधड़ी (Fraud) का मामला दर्ज किया है। सिक्युरिटी एजेंसी के निदेशक संदीप यादव ने पुलिस को दी गई शिकायत में बताया है कि मार्च 2018 में एजेंसी ने एडमिन कार्यों के लिए यूपी मथुरा के रहने वाले कैशाल चंद को नौकरी पर रखा था। कैलाश चंद एजेंसी कर्मचारियों की सेलरी डिटेल रखता था। साथ ही बैंक खाते संबंधी रिकॉर्ड भी उसके पास ही रहते थे।

कुछ महीने पहले संदीप यादव को पता लगा कि एजेंसी के बैंक खाते से करीब साढ़े आठ लाख रुपये गायब हैं। मामले की जांच करने पर संदीप को पता लगा कि कैलाश चंद ने एजेंसी के दो बैंक खातों की चेकबुक से करीब 36 चैक चुरा लिए थे। जिसके जरिए उसने अपने इरादों को अंजाम दिया। कैलाश चंद ने एजेंसी में काम करने वाले सिक्युरिटी गार्ड विरेंद्र सिंह के खाते की जानकारी ली। उसके बाद विरेंद्र के फर्जी दस्तखत करके उसके खाते का रजिस्टर्ड नंबर बदलवा दिया और कंपनी के खाते के चुराए हुए चैक के जरिए विरेंद्र के खाते में रुपये ट्रांसफर करने लगा। गार्ड विरेंद्र के खाते के अलाना आरोपी अन्य खातों में रुपये जमा करने लगा।

मामले का खुलासा होने तक आरोपी ने विभिन्न खातों में 8 लाख 58 हजार 106 रुपये ट्रांसफर कर लिए थे। मामले का खुलासा होने पर जब आरोपी कैलाश चंद से पुछताछ की गई तो वह नौकरी छोड़कर भाग गया और कंपनी के साथ सारे संबंध खत्म कर दिए। इस पर एजंसी निदेशक संदीप यादव ने पुलिस की मदद ली। पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन का कहना है कि प्राथमिक जांच में आरोप सही पाए गए हैं। बजघेड़ा थाने में आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

Next Story
Top