Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रदेश में 129 ने जलाई पराली, सेटेलाइट से पराली जलाने वालों पर रखी जा रही नजर

प्रदेश में 129 ने जलाई पराली, सेटेलाइट से पराली जलाने वालों पर रखी जा रही नजर
X

प्रदेश में पराली जलाने को लेकर कृषि विभाग व सरकार सख्त रवैया अपनाये हुए है। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री राजधानी में बदले मौसम व फाग होने के चलते हरियाणा व पंजाब के किसानों पर तंज कस रहे है। राजधानी के आसपास का क्षेत्र उक्त दिनों फाग के चलते ज्यादा जहरीला होता जा रहा है।

प्रदेश में बृहस्पतिवार को 129 जगहों पर पराली जलाने की लोकेशन सामने आई है। गत सोमवार को कुंडली थाने के गांव नाहरी में पराली जलाने का मामला सामने आया था। किसान पर कृषि विभाग ने ढाई हजार रुपये का जुर्माना किया है। कृषि विभाग के पास सेटेलाइट से पराली जलाने की लोकेशन भेजी जाती है।

बता दें कि प्रदेश सरकार ने पराली जलाने पर प्रति एकड़ ढ़ाई हजार रुपये का जुर्माना निर्धारित किया हुआ है। पराली जलाने वालों पर सेटेलाइट से नजर रखी जा रही है। बृहस्पतिवार को प्रदेश में 129 जगहों पर पराली व फांस जलाने की लोकेशन विभाग के पास पहुंची। वहीं सोनीपत में गत सोमवार को कुंडली के नांगल कलां में किसान ने फांसो में आग लगा दी।

धान की फसल उठाने के बाद बचे फांस व पराली को जलाने पर सेटेलाइट से कृषि विभाग के पास मैसिज पहुंचा। मैसिज में आई लोकेशन पर विभाग के अधिकारियों ने मौके का जायजा लिया। उक्त किसान से विभाग ने ढाई हजार रुपये का जुर्माना वसूला।

कृषि अधिकारी किसानों को जागरूकता कैंप व अन्य साधनों से पराली न जलाने को लेकर जागरूकत कर रहे है। उसके बाद भी किसान लापरवाही बरतते हुए पराली व फास जला देते है। हालांकि सोनीपत जिले में अब तक महज एक ही मामला सामने आया है। बृहस्पतिवार को सेटेलाइट से आई लोकेशन में जिले में एक भी स्थान पर पराली जलाने का मामला सामने नहीं आया।

इन जगहों की आई लोकेशन-

अंबाला- 15, फरीदाबाद- 07, हिसार 02, झज्जर 01, जींद 08, कैथल 43, करनाल 26, कुरूक्षेत्र 19, पलवल 03, सिरसा 01, यमुनानगर 04

नोट: उक्त आकड़े कृषि विभाग द्वारा दिये गये है।

जिले में फसलों के अवषेश का उपयोग करने के लिए समय-समय पर किसानों को विभाग की तरफ से जागरूक किया जाता है। अब तक केवल एक किसान पर ढाई हजार रुपये जुर्माना किया गया है। सेटेलाइट से पराली जलाने वालों पर नजर रखी जा रही है। वहीं किसान पराली का उपयोग अन्य साधनों के लिए करने लगे है। देवेंद्र कुहाड़, कृषि अधिकारी सोनीपत।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story